जबलपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। वित्तीय वर्ष 2021-22 में शून्य दुर्घटना के लिए हरदा सर्किल ने प्रथम पुरस्कार जीता है। शक्तिभवन में आयोजित स्वतंत्रता दिवस के आयोजन में पूर्व क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी के प्रबंध संचालक अनय द्विवेदी ने यह पुरस्कार दिया।

इस संबंधी अधीक्षण यंत्री शुक्ला ने बताया कि उनके सर्किट में करीब 600 कर्मचारी हैं। इसमें आउट सोर्स कर्मी भी हैं। करंट से हादसे न हों, इसके लिए उन्होंने विशेष सतर्कता अभियान चलाया। किसी भी हादसे से निपटने के लिए जहां कर्मियों को पूरी तरह से सुरक्षित रहने के लिए जागरूक किया। वहीं यह भी समझाया कि बिजली सप्लाई बंद और चालू करने से पहले सुरक्षा के मानकों पर गंभीर रहे। जरूरी सावधानी बरती जाए। उन्होंने कहा कि बिजली सप्लाई भले ही एक घंटे की बजाए दो घंटे देरी से चालू हो, लेकिन एक भी हादसा नहीं होना चाहिए। इस ध्येय को लेकर कनिष्ठ अभियंता और लाइन स्टाफ के साथ मिलकर कार्य किया। उन्होंने कहा कि सालभर में उनके सर्किल में एक भी करंट लगनी की छोटी सी घटना भी नहीं घटित हुई है। ये सब उसके सहयोगियों की जागरूकता की वजह से हुआ है।

परिवार की चिंता-

बिजली कर्मियों को लेकर अधीक्षण यंत्री ने कहा, हमारे सहकर्मी सभी एक परिवार है, जिसकी चिंता करना हमारा फर्ज है। बिजली हादसे ज्यादातर जल्दबाजी में काम के दौरान होते हैं। बिजली जल्दी चालू करने की जल्दी में दुर्घटना होती है इसलिए बहुत सावधानी बरतना जरूरी होता है।

54 कर्मी पुरस्कृत-

अनय द्विवेदी ने उत्कृष्ट कार्यनिष्पत्ति‍ और बेहतर प्रदर्शन के लिए विभि‍न्न बिजली कंपनियों के 54 कर्मियों को पदक व प्रमाण पत्र प्रदान किए। वर्ष 2021-22 में न्यूनतम विद्युत दुर्घटना के लिए हरदा संचारण-संधारण सर्किल को प्रथम स्थान की चलित शील्ड प्रदान की गई। द्वितीय स्थान पर होशंगाबाद व उज्जैन संचारण-संधारण सर्किल रहे। वर्ष भर में खेल एवं कला गतिविध‍ियों में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने के लिए श्री सिंगाजी ताप विद्युत गृह दोंगलिया खंडवा, केन्द्रीय कार्यालय जबलपुर और सतपुड़ा ताप विद्युत गृह सारनी को चलित शील्ड प्रदान की गई।

Posted By: Mukesh Vishwakarma

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close