जबलपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। मध्य प्रदेश पावर ट्रांसमिशन कंपनी के फील्ड में तैनात इंजीनियर अपने अपने कार्यक्षेत्र के फीडरों पर न्यूनतम ट्रिपिंग सुनिश्चित करें, ताकि विद्युत उपभोक्ताओं को कम से कम व्यवधान के साथ विद्युत पारेषण प्रदाय किया जा सके। यह निर्देश मध्य प्रदेश पावर ट्रांसमिशन कंपनी ईस्ट जोन के कार्यपालन अभियंताओं व उच्च अधिकारियों की बैठक में प्रबंध संचालक सुनील तिवारी ने दिए।

इस बैठक में सभी संकायों के मुख्य अभियंता व अधीक्षण अभियंता स्तर के अधिकारी भी शामिल थे।सभी ने अपने सुझाव दिए और समस्याएं रेखांकित कीं। समस्याएं दूर करने आश्वासन दिया गया। साथ ही कर्त्तव्य की दिशा में सक्रिय रहने प्रेरित किया गया। उपभोक्ता हित को वरीयता देने को मुख्य बताया गया। अभियंता कितने महत्वपूर्ण हैं, यह बिंदु विशेष रूप से रेखांकित हुआ।

सभी ने अभियंता होने के अर्थ को समझकर कार्य करने का संकल्प लिया। प्रत्येक मोर्चे पर बेहतर करने का संकल्प लिया। फीडरों पर न्यूनतम ट्रिपिंग सुनिश्चित करने की महत्ता को समझकर इस दिशा में पूरी निष्ठा से जुटने की आवश्यकता को समझा गया। अधिकारियों ने निर्देशों को हर हाल में पूरा करने का निर्णय लिया। वे बेहतर कार्य करके रिजल्ट देंगे। इससे गरिमा बढ़ेगी। यही विभाग का धर्म है, इसीलिए समीक्षा सत्र होते हैं।

हर ट्रिपिंग का सूक्ष्म अन्वेषण किया जाए :

सुनील तिवारी ने बैठक में निर्देश दिए कि हर ट्रिपिंग का गहन अन्वेषण किया जाए ताकि त्रुटि के कारणों का निराकरण समय पर किया जा सके व कहीं व्यवधान न होने पाए। उन्होंने कहा कि लोड सीजन के लिये सभी अभी से तैयारियां कर ट्रांसफार्मर्स और लाइनों की क्षमता बढ़ोतरी व रख-रखाव के कार्य समय पर पूरा कर लें। बिजली विभाग में अनुशासन को लेकर अन्य दिशा-निर्देश भी जारी किए गए। आजादी का अमृत महोत्सव मनाए जाने को लेकर भी चर्चा हुई। तिरंगा लहराया जाएगा। घर-घर तिरंगा का सम्मान होगा। कार्य के साथ राष्ट्रीय गौरव पर ध्यान दिया जाएगा।

Posted By:

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close