जबलपुर,नईदुनिया प्रतिनिधि।

बिजली कंपनी बिल बकाया वसूलने के लिए ताबड़तोड़ तरीके से कनेक्शन काटने में जुटी है। किसी तरह भी लक्ष्य के अनुरूप राजस्व जुटाना है, लिहाजा टीमों को हर दिन कनेक्शन काटने का लक्ष्य दिया जा रहा है। हजारों की संख्या में कनेक्शन जिले में काटे गए हैं। जिनके बिजली कनेक्शन काटे गए है उन्हें बकाया बिल तो भरना ही होगा, इसके अलावा 380 रुपये कटा कनेक्शन दोबारा जुड़वाने के लिए भी देना होगा। परेशानी यहीं खत्म नहीं हो रही है, बिजली कनेक्शन जुड़वाने के लिए जो कई चक्कर दफ्तर के काटने पड़ते हैं वो अलग। कई उपभोक्ता भूलवश बिल समय पर नहीं जमा कर पाते हैं उन्हें भी बिजली कनेक्शन दोबारा जुड़वाने में परेशानी झेलनी पड़ रही है। बकाया वसूली के लिए शहर में करीब आठ हजार कनेक्शन काट दिए हैं।

नगर संभाग दक्षिण में बकाया बिजली बिल वसूलने के लिए मुनादी करवाई जा रही है। दक्षिण संभाग के भटौली, ग्वारीघाट, रामपुर, बिलहरी, तिलहरी, शक्तिभवन मुजावर मोहल्ला, गंगानगर, धनवंतरि नगर, भूकंप कालोनी, तिलवारा में बकायादारों के खिलाफ गत दिवस अभियान चलाया गया। यहां 230 कनेक्शन 26 लाख रुपये बकाया के काटे। इसी रह जबलपुर ग्रामीण इलाकों में 1500 कनेक्शन काटे गए। नगर संभाग दक्षिण, पूर्व और अन्य क्षेत्रों में भी सैकड़ों बिजली कनेक्शन काटे गए। इन सभी को अब कनेक्शन दोबारा जुड़वाने के लिए 380 रुपये अतिरिक्त भुगतान करना होगा। कार्यपालन अभियंता नवनीत राठौर ने कहा कि नए नियम के तहत कनेक्शन जुड़वाने के लिए राशि बढ़ गई है। सिर्फ यही नहीं जिन उपभोक्ताओं ने बिजली कनेक्शन कटे होने के बाद चुपके से कनेक्शन जोड़ लिया है उनके खिलाफ आपराधिक प्रकरण भी दर्ज करवाया जा रहा है।

टीम कम, मुश्किल हो रहा काम-

बिजली कंपनी के पास गिनती के लाइन कर्मी बचे हैं, जो लक्ष्य के मुताबिक बिजली बकाया वाले उपभोक्ताओं के कनेक्शन काटने के लिए निकलते हैं। कई उपभोक्ता बिल तत्काल जमा कर देते हैं, लेकिन बिजली कनेक्शन जुड़ने में कई घंटे लग जाते हैं। उपभोक्ता अजय शर्मा ने बताया कि बिल बकाया होने के कारण बिजली कनेक्शन सुबह काट दिया गया। उसे जुड़वाने के लिए शाम तक बिजली दफ्तर के कई चक्कर लगाने पड़े। उन्होंने कहा जब भी बिजली दफ्तर जाते थे हर बार कहा जाता था कि लाइन स्टाफ अभी फील्ड पर है। ऐसे स्थिति में बिजली कंपनी को अतिरिक्त टीम रखकर कटे कनेक्शन जोड़ने का काम कराया जाना चाहिए। कई उपभोक्ता बिजली कंपनी के रवैये से परेशान हैं। उनका कहना है कि जो उपभोक्ता नियमित रूप से बिल जमा करते हैं और किसी माह में किसी वजह से बिल नहीं जमा कर पाते हैं ऐसे उपभोक्ताओं के कनेक्शन बिना पूर्व सूचना के नहीं काटे जाने चाहिए।

Posted By: Jitendra Richhariya

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close