जबलपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। भाजपा के भीतर बागियों को मनाने में पार्टी नेता बहुत अधिक सफल नहीं हुए। वैसे तो 24 से ज्यादा बागी चुनाव मैदान में उतरे थे लेकिन कई ने नेताओं के पुचकारने पर नेता मान गए और बुधवार को चुनाव आवेदन वापस ले लिया। इसमें आधा दर्जन बागियों ने संगठन न नेता किसी की नहीं सुनी। चुनावी रण में उतरने का उनका इरादा अटल रहा और उन्होंने नाम वापस नहीं लिया। अब पार्टी संगठन ने इन सभी निर्दलीय मैदान में उतरे प्रत्याशियों को संगठन से बाहर करने का फैसला किया है। इन सबके बीच भाजपा ने दो उम्मीदवार बदल दिए है। इसमें एक प्रत्याशी की सेहत खराब होने के कारण तथा दूसरी प्रत्याशी बदलने की वजह आवेदन निरस्त होना बताया गया है।

क्यों नहीं माने बागी-

भाजपा के पांच वार्ड में पार्टी के पुराने कार्यकर्ता ही मैदान में निर्दलीय खड़े हो गए हैंं ऐसे में पार्टी को कांग्रेस के प्रत्याशी के अलावा अपने ही खेमे के निर्दलीय से भी जूझना होगा। बता दे कि इनमें ज्यादातर दावेदार टिकट के पक्के दावेदार थे लेकिन संगठन ने इनकी बजाए अन्य को टिकट दिया ऐसे में दावेदारों ने संगठन के खिलाफ जाकर निर्दलीय आवेदन किया। इसमें निर्मलचंद जैन वार्ड से ऋषि यादव, महर्षि महेश योगी वार्ड से दिलीप पटेल, अग्रसेन वार्ड से सर्मथ तिवारी, द्वारकानगर वार्ड से टिल्लूमल नेचलानी, सेठ गोविंददास वार्ड से कल्लू बाबा और पं.मदन मोहन मालवीय वार्ड से वीरेंद्र सोनकर ने बगावत करते हुए निर्दलीय चुनाव लड़ रहे हैं।

आवेदन भरा था, मिल गया बी फार्म-

सरदार वल्लभभाई पटेल वार्ड क्रमांक पांच से भाजपा ने अधिकृत प्रत्याशी बदल दिया है। यहां पार्टी ने ह्देश राजपूत को प्रत्याशी बनाया था लेकिन बी फार्म संजय नाहटकर काे जारी िकिया है। नगर अध्यक्ष जीएस ठाकुर ने बताया कि पार्टी का अधिकृत प्रत्याशी ह्देश राजपूत की सेहत खराब होने की वजह से उन्होंने चुनाव लड़ने में असहजता जाहिर की जिसके बाद पार्टी के अन्य कार्यकर्ता संजय नाहतकर को पार्टी का अधिकृत उम्मीदवार बनाया गया। बता दे कि संजय नाहतकर की तरफ से भी पहले ही आवेदन किया गया था। इसके अलावा वार्ड क्रमांक 59 से पार्टी के अधिकृत प्रत्याशी गुलाम सर्वर का आवेदन तकनीकी वजहों से निरस्त हो गया था। यहां से पार्टी ने ताजुद्दीन उस्मानी को अधिकृत प्रत्याशी बनाते हुए बी फार्म दिया है।

दिखाएंगे बाहर का रास्ता-

नगर अध्यक्ष जीएस ठाकुर ने कहा कि पांच पार्टी के कार्यकर्ताओं ने नाम वापस लेने से इंकार कर दिया है इन सभी को पार्टी से निस्कासित किया जाएगा। इस संबंध में 23 जून को आदेश जारी किया जाएगा।

Posted By: Mukesh Vishwakarma

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close