जबलपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। अंडरवर्ल्ड डॉन अबू सलेम की महिला मित्र रही अभिनेत्री मोनिका बेदी उर्फ फौजिया उस्मान के खिलाफ फर्जी पासपोर्ट मामले में हाई कोर्ट में सुनवाई टल गई है। कोर्ट के निर्देशानुसार भोपाल सेशन कोर्ट से मोनिका के मामले के रिकॉर्ड गुरुवार को नहीं पेश किए जा सके। लिहाजा, न्यायमूर्ति वीपीएस चौहान की एकलपीठ ने मामले की सुनवाई 19 सितंबर को नियत कर दी। यह अपील सरकार ने भोपाल की कोर्ट से मोनिका को बरी किए जाने के खिलाफ दायर की है।

फर्जी पासपोर्ट कांड को लेकर भोपाल के कोहेफिजा थाने में मोनिका बेदी के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई थी। मोनिका पर आरोप था कि उसने खुद को अबू सलेम की पत्नी बताते हुए फौजिया उस्मान के नाम से फर्जी पासपोर्ट बनवाया। वर्ष 2006 में भोपाल की सेशन कोर्ट ने मोनिका बेदी को बरी कर दिया। सेशन कोर्ट से भी सरकार की अपील 16 जुलाई 2007 को खारिज हो गई।

इसके खिलाफ राज्य सरकार ने यह पुनरीक्षण याचिका दायर की। 2019 के आरंभ में सुप्रीम कोर्ट ने इस मामले में जल्द विचारण के निर्देश दिए। गुरुवार को सरकार की ओर से यह बताया गया कि तीन सितंबर के आदेश के पालन में निचली अदालत से वांछित रिकॉर्ड नहीं आ सके। इस पर कोर्ट ने मामले की सुनवाई आगे बढ़ा दी।

Posted By: Prashant Pandey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

NaiDunia Local
NaiDunia Local
 
Show More Tags