जबलपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। किसानों के लिए गेहूं खरीदी की पंजीयन की प्रक्रिया शुरू हो रही है इसे ध्यान में रखते हुए जिला प्रशासन ने तय की गई नियमावली को जारी कर दिया है।

इस बार रबी सीजन में समर्थन मूल्य पर गेहूं के उपार्जन के लिए किसानों का पंजीयन 5 मार्च से शुरु हो रहा है। इस बात को ध्यान में रखते हुए जिला प्रशासन ने इस बार किसानों को पंजीयन कराने के लिए कई विकल्प उपलब्ध कराए हैं।

किसान इस बार सहकारी समिति, एमपी ऑनलाईन कियोस्क, कॉमन सर्विस सेंटर, लोक सेवा केन्द्र एवं साइबर कैफे में जाकर अपना पंजीयन करा सकते हैं। पंजीयन के समय कृषकों को बैंक खाता पास बुक की प्रति, आधार कार्ड व समग्र आईडी पंजीयन केन्द्र में ले जाना होगा।

तहसील कार्यालय में भी दी सुविधा: पंजीयन की नि:शुल्क व्यवस्था के अंतर्गत किसान स्वयं के मोबाइल व कम्प्यूटर से भी निर्धारित लिंक पर जाकर पंजीयन कर सकते हैं। साथ ही ग्राम पंचायत, जनपद पंचायत व तहसील कार्यालय में स्थापित सुविधा केन्द्र तथा सहकारी समिति एसएचजी, एफपीओ व एफपीसी द्वारा संचालित पंजीयन केन्द्रों पर जाकर भी पंजीयन करवा सकते हैं। सशुल्क व्यवस्था में एमपी ऑनलाइन कियोस्क, कॉमन सर्विस सेंटर, लोक सेवा केन्द्र एवं साइबर कैफे पर भी किसान पंजीयन करवा सकते हैं। राज्य शासन द्वारा नवीन व्यवस्था के तहत पंजीयन के समय किसान को बैंक खाता नम्बर और आईएफएससी कोड प्रविष्टि कराने की अनिवार्यता समाप्त कर दी गई है।

आधार नंबर से बैंक खाता कराएं लिंक: अब किसान को उसकी फसल का भुगतान उनके आधार नंबर से लिंक खाते में सीधा प्राप्त होगा। इसलिए किसान अपने आधार नंबर से बैंक खाता और मोबाइल नंबर को लिंक कराकर उसे अपडेट रखें। इस कार्य के लिए पोस्ट ऑफिस की भी सुविधा ले सकते हैं। पंजीयन कराने और फसल बेचने के लिए आधार नंबर का वेरीफिकेशन अनिवार्य होगा। वेरीफिकेशन आधार नंबर से लिंक मोबाइल नंबर पर प्राप्त ओटीपी या बायोमेट्रिक डिवाईस से किया जायेगा।

Posted By: Ravindra Suhane

NaiDunia Local
NaiDunia Local