Heavy Rain in Jabalpur: जबलपुर ( नईदुनिया प्रतिनिधि)। डेढ़ घंटे की बारिश ने शहर में बारिश की तैयारियों की हकीकत सबके सामने ला दी। इसका सबसे ज्यादा बुरा असर सकरी गलियों और निचले हिस्सों में रहने वाले लोगों पर हुआ। वहीं दूसरी ओर तेवर में मदन महल पहाड़ियों के विस्थापितों के तंबूनुमा घरों को बारिश ने तहस-नहस कर दिया । घर के पीछे बने खेतों में बारिश का पानी भर गया, जो कुछ समय तक तो खेतों में ठहरा रहा, लेकिन लगभग 25 मिनट बाद यह खेती फूट गए और पानी विस्थापितों की घरों में जा घुसा। इस वजह से सैकड़ों विस्थापित लोगों का घरों में रखा सामान गीला हो गया और घुटनों तक पानी भर जाने की वजह से लोग रात भर परेशान थे।

वायरल वीडियो से मचा हड़कंप

तेवर में हुई तेज बारिश का वीडियो वायरल होने के बाद प्रशासन हरकत में आया। नगर निगम और जिला प्रशासन के अधिकारियों ने गुरुवार सुबह जाकर मौके का निरीक्षण किया । उनका कहना था कि हालात ठीक है। किसी तरह के जानमाल की हानि नहीं हुए। जिला प्रशासन के मुताबिक तेवर विस्थापितों के घर से लगे खेत में पाइप चोक होने की वजह से ओवरफ्लो हो गया, जिससे क्षेत्र में पानी भर गया।

क्षेत्र में रहने वाली मुन्नी बाई ठाकुर लीला बाई बताती हैं कि रात के वक्त तेज बारिश से विस्थापितों के घर के पीछे बना खेत की मिल टूट गई इस वजह से पानी पूरे क्षेत्र में भर गया और कई घर जलमग्न हो गए हालांकि सुबह तक बारिश का पानी बाहर निकल गया था। बारिश के बाद क्षेत्र में कीचड़ और दलदल हो गया है इस वजह से कई लोग अपने घरों के अंदर तक नहीं जा पा रहे हैं बाहर ही खड़े हैं।

नाली साफ करने में जुटा निगम

नगर निगम के अधिकारी सुबह मौके पर पहुंची और आसपास बने सभी पाइपों की सफाई शुरू कर दी वहीं पास में नहर से लगे इससे को भी साफ किया जा रहा है अधिकांश पाइप में कचरा फस जाने की वजह से पानी निकासी धीमी हो गई थी जिसे अब साफ कर दिया गया है। नगर निगम अधिकारियों के मुताबिक जरूरत होगी तो कई और क्षेत्रों में पानी निकासी के लिए पाइप लाइन डाली जाएगी।

-तेवर में विस्थापितों के घर के आसपास पानी निकासी के लिए पाइप लगाए गए थे, जिसमें कचरा फस जाने की वजह से वह चोक हो गए और पानी ओवरफ्लो हो गया। मौके पर जाकर अधिकारियों ने स्थिति का जायजा लिया है अब स्थिति सामान्य है। वहां पर लोगों की जरूरत के हिसाब से सभी व्यवस्थाएं पहले से की गई हैं । जरूरत हुई तो भी की जाएंगी।

डा. इलैयाराजा टी, कलेक्टर

विस्थापितों के घरों से लगा हुआ खेत है जिसमें बारिश का पानी भर गया था, जिससे वह ओवरफ्लो हुआ। अभी क्षेत्र में बारिश का पानी पूरी तरह से निकल गया है। अब हम यह देख रहे हैं कि खेत में भरे पानी की निकासी के लिए क्या बेहतर इंतजाम किए जा सकते हैं।

दिव्या अवस्थी, एसडीएम गोरखपुर

Posted By: Mukesh Vishwakarma

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close