जबलपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। कलेक्टर ने नेताजी सुभाष चंद्र बोस मेडिकल कालेज की कमियों को दूर करने की दिशा में विशेष प्रयास तेज कर दिया है। इसके तहत निरीक्षण किया गया। मौके पर कमियों को रेखांकित करके दिशा-निर्देश जारी किए गए। साफ किया गया कि मरीजों और उनके परिजनों को परेशानी नहीं होनी चाहिए। इससे प्रशासन की प्रतिष्ठा पर दाग लगता है। जनता की सेवा के लिए जो उपक्रम बनाए गए हैं, वे भ्रष्टाचार मुक्त होने चाहिए। उनमें कमियां होने पर दूर की जानी चाहिए। ऐसा न करना अनुचित है। इससे समाज में गलत संदेश जाता है। इस रवैये को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

मेडिकल कालेज हास्पिटल का आकस्मिक निरीक्षण कर कलेक्टर इलैया राज टी ने वहां की व्यवस्थाओं को देखा और विगत दिनों दिये निर्देशों के परिपालन के संबंध में जानकारी ली। साथ ही व्यवस्थाओं को सुधारने के लिए आवश्यक दिशा-निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि मेडिकल परिसर में साफ-सफाई रहे, मेडिकल अस्पताल से निकलने वाले कचरे का उचित तरीके से निपटान सुनिश्चित करें। साथ ही मेडिकल व रैनबसेरा में पेयजल व्यवस्था को सुधारने को कहा। रैन बसेरा के पास के गेट को खोलने के साथ मेडिकल कालेज हास्पिटल के गेट पर किये अतिक्रमण पर आवश्यक कार्यवाही करने के निर्देश दिये। पार्किंग स्थल को साफ-स्वच्छ रखें और पार्किंग के लिए रिटेंडर करने के निर्देश दिये।

कलेक्टर ने कहा कि मेडिकल में सुरक्षा व्यवस्था को ठीक करें साथ ही नियमित रूप से मानिटरिंग करते रहें। पीडब्ल्यूडी के अधिकारियों से कहा कि जहां आवश्यक है वहां पुताई सुनिश्चित करें। मेडिकल कैम्पस में स्थित पुलिस चौकी को सक्रिय होने के निर्देश भी दिये। कलेक्टर ने कहा कि मेडिकल कालेज हास्पिटल मेन बिल्डिंग के सामने वाहन न खड़े हों। इस दौरान मेडिकल कालेज के डीन सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।कलेक्ट ने सभी को अपना कर्त्तव्य पूरा करने प्रेरित किया। मरीजों से बातचीत भी की गई। उनकी शिकायतों को दर्ज किया गया। परिजनों से भी सवाल किए गए। सुझाव रेखांकित किए गए। इस आधार पर ठोस कार्रवाई को गति दी जाएगी।

Posted By: Mukesh Vishwakarma

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close