जबलपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ गुरुवार को नगर प्रवास पर रहे। उन्होंने मीडिया से बात करते हुए बताया कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के पास कोई विजन नहीं है वो टेलीविजन के सहारे विकास करना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि जबलपुर से मुझे बहुत स्नेह है, यहां से मुझे ऊर्जा मिलती है।

कमलनाथ ने भाजपा सरकार पर हमला करते हुए कहा कि उसने स्मार्ट सिटी, नगर निगम और ग्राम पंचायतों को भ्रष्टाचार की व्यवस्था बना कर रख दिया है। शिवराज मध्यप्रदेश को सिंगापुर बनाने का दावा करते रहे, लेकिन उनके पास खोखले अभिनय के अलावा कोई विजन नहीं रहा। शिवराज सिंह चौहान को घोषणा-वीर बताते हुए उन्होंने कहा कि वो सिर्फ घोषणा करते हैं लेकिन मैं घोषणा की राजनीति नहीं करता। उन्होंने नगरीय निकाय चुनाव को लेकर कहा कि ये चुनाव स्थानीय स्तर पर लड़े जाते हैं। इनके माध्यम से प्रदेश या देश के लिए फैसला नहीं होता, इसलिए निकाय चुनाव को स्थानीयता के मुद्दे से जोड़कर देखना चाहिए। इससे जबलपुर के भाग्य का फैसला होना है।

ओवैसी से फायदा किसको :

हाल ही में आए ओवैसी ने कमलनाथ सरकार पर हमला बोला था और कहा था कि कांग्रेस अब नहीं आने वाली। इस मामले में कमलनाथ ने ओवैसी की बातों को हल्के-फुल्के अंदाज में लेते हुए कहा कि यह सबको पता है कि ओवैसी के कुछ भी कहने या करने से फायदा किसको होता है। ओवैसी अलगाव की राजनीति करते हैं जबकि हमारी संस्कृति जोड़ने की है।

सीएम को चर्चा की चुनौती :

कमलनाथ ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह को चुनौती भरे अंदाज में कहा कि वे मेरे साथ खुले मंच पर चर्चा करें और बताएं कि उन्होंने क्या-क्या काम किया है। मैं भी उनको बताऊंगा कि मैंने अपने पंद्रह महीनों के कार्यकाल में क्या-क्या किया था। हमारी सरकार ने जो काम कराने का बीड़ा उठाया था उनको ठंडे बस्ते में डाल दिया गया है।

जो घर पर बैठे हैं वो विरोधी :

कांग्रेस के अनेक नेता प्रचार अभियान पर नहीं निकल रहे हैं। इसे लेकर कमलनाथ ने सभी नेताओं से कहा कि वो घरों से बाहर निकलें, जो प्रचार के लिए बाहर नहीं निकलेंगे- उनके लिए माना जाएगा कि वो विरोध कर रहे हैं। इसलिए जब फसल कटेगी तो हिसाब सबका हो जाएगा।

Posted By:

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close