जबलपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। चुनावी मौसम में नगर निगम के भी वारे-न्यारे रहे। महज 18 दिन में ही निगम के खजाने में चार करोड़ रुपये रुपये जमा हो गए। ये कमाई निगम ने बकाया करो की वसूली कर की है। निगम के खजाने में अप्रत्याशित तौर से जो आय हुई वे कर वसूली अभियान के दौरान भी नहीं हुई थी।

नगर निगम चुनाव के मद्देनजर महापौर और पार्षद पद के लिए चुनावी ताल ठोकने वाले अभ्यर्थियों को आवेदन पत्र के साथ ये शपथ पत्र भी देना था कि उनके ऊपर नगर निगम का कोई बकाया नही है इसकी एनओसी आवेदन के साथ लगानी थी। लिहाजा चुनाव लड़ने के इच्छुक अभ्यर्थियों ने बड़ी संख्या में नगर निगम का रूख किया और बकाया कर जमा कर एनओसी हासिल की। निगम ने भी इसका भरपूर फायदा उठाया अभ्यर्थियों से 15 से 20 वर्षों का बकाया कर भी वसूल लिया। हुआ ये कि मात्र 18 दिन में ही निगम खजाने में चार करोड़ 11 लाख रुपये आ गए।

20 वर्षों से नहीं किए थे जमा-

चुनाव लड़ने वाले ज्यादातर अभ्यर्थी राजनीतिक पार्टियों से जुड़े थे। कई तो ऐसे रसूखदार नेता भी थे जो नगर निगम को संपत्ति, जलशुल्क सहित डोर टू डोर कचरा कलेक्शन शुल्क जमा नहीं कर रहे थे। कुछ पर 20 वर्षों का कर बकाया था। इनके राजनीतिक रसूख को देखते हुए नगर निगम के अधिकारी भी कर वसूली अभियान के दौरान इनसे वसूली करने की हिम्मत नहीं जुटा पा रहे थे। लेकिन चुनावी फेर में वे खुद जब कर जमा कर निगम से एनओसी लेने पहुंचे तो निगम ने भी मौके पर चौका मारा और बकायादारों से पूरा का पूरा बकाया वसूल लिया।

----

पिछले वर्ष से 93 लाख मिले ज्यादा

नगर निगम के कर वसूली के आंकड़ों पर गौर करें तो पिछले वित्तीय वर्ष 2021- 22 में एक जून से 18 जून तक चार हजार 596 करदाताओं ने कर के रूप में निगम के खजाने में तीन करोड़ 18 लाख लाख 10 हजार रुपये जमा किए थे। वहीं इस वित्तीय वर्ष 2022- 23 में चुनावी तड़का लगने से एक जून से 18 जून तक छह हजार 895 करदाताओं से निगम के खाते में चार करोड़ 11 लाख 70 हजार रुपये जमा हुए। जो गत वर्ष के मुकाबले 93 लाख रुपये 60 हजार रुपये ज्यादा है। मसलन दो हजार 299 करदाता इस वर्ष बढ़े रहे।

------

एक नजर में एक से 18 जून तक की कर वसूली

वर्ष 2021- 22

मद - करदाता - जमा राशि

संपत्तिकर - 3,006 - 1 करोड़ 18 लाख

जलशुल्क - 1,049 - 1 करोड़ 43 लाख

डोर टू डोर- 541 - 5 लाख 71 हजार

--------

वर्ष 2022- 23

मद - करदाता - जमा राशि

संपत्तिकर - 5,360 - 2 करोड़ 29 लाख

जलशुल्क - 1,386 - 1 करोड़ 60 लाख

डोर टू डोर- 149 - 22लाख 70 हजार

--------

गत वित्तीय वर्ष में जून माह में निगम के खाते में तीन करोड़ 18 लाख रुपये जमा हुए थे। वर्तमान वित्तीय वर्ष में चार करोड़ 11 लाख रुपये से अधिक प्राप्त हुए है। निकाय चुनाव के मद्देनजर बड़ी संख्या में करदाता कर जमा कर एनओसी लेने आए थे। -पीएन सनखेरे, उपायुक्त राजस्व नगर निगम

Posted By: Mukesh Vishwakarma

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close