जबलपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। आगामी 30 जनवरी को धन-वैभव, सुख, ऐश्वर्य का कारक ग्रह शुक्र मकर राशि में मार्गी अवस्था में प्रवेश करेंगे। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार शुक्र, वृषभ और तुला राशि का स्वामी ग्रह है। इसके अलावा शुक्र मीन राशि में उच्च होता होता है जबकि कन्या राशि में यह नीच का नीच का माना जाता है। जबलपुर के ज्‍योतिषाचार्य पंडित सौरभ दुबे ने बताया कि वहीं मकर शनिदेव की राशि मानी जाती है। शनि और शुक्र के बीच मित्रता रहती है, ऐसे में मकर राशि में शुक्र के मार्गी होने से मकर और कुंभ राशियों को बहुत अधिक लाभ होगा।

ज्‍योतिषाचार्य पंडित प्रवीण मोहन शर्मा ने बताया कि इसके साथ ही शुक्र वृषभ और तुला राशियों के स्वामी ग्रह माने जाते हैं। शुक्र के मार्गी का पूरा-पूरा लाभ वृषभ और तुला राशि वालों को भी मिलेगा। 26 फरवरी 2022 तक इसी स्थिति में रहेंगे। इसके बाद 27 फरवरी को शुक्र मकर राशि में गोचर करेंगे। 27 अप्रैल को शुक्र मीन राशि में प्रवेश करेंगे। फिर 23 मई को मेष राशि में गोचर करेंगे। राशि अनुसार शुक्र का गोचर विशेष फलदायी रहेगा।

राशि अनुसार ऐसा रहेगा असर :

मेष राशि- कार्यों के प्रति उत्साह रहेगा, परंतु बातचीत में संतुलित रहें। मन अशांत रहेगा, धर्म-कर्म के प्रति रूझान बढ़ेगा। पिता को स्वास्थ्य विकार हो सकता है, माता का सहयोग मिलेगा। माता से धन प्राप्ति के योग हो सकते हैं।

वृष राशि- धैर्यशीलता में कमी रहेगी, आत्म संयत रहें, शैक्षिक कार्यों में व्यवधान आ सकता है। किसी मित्र के सहयोग से कारोबार विस्तार होगा, लाभ के अवसर मिलेंगे। पारिवारिक जीवन सुखमय रहेगा। कार्यक्षेत्र में परिश्रम की अधिकता रहेगी।

मिथुन राशि- आत्मविश्वास में कमी आएगी, शांत रहें। सुस्वाद खान-पान में रुचि बढ़ेगी, स्वास्थ्य के प्रति सचेत रहें। परिवार में धार्मिक कार्य होंगे, किसी मित्र के सहयोग से संपत्ति में निवेश कर सकते हैं।

कर्क राशि- अपनी भावनाओं को वश में रखें, आत्मविश्वास में कमी आएगी। क्रोध के अतिरेक से बचें, पारिवारिक जिम्मेदारी बढ़ सकती है।

सिंह राशि- मन में निराशा व असंतोष के भाव रहेंगे, आत्म विश्वास में कमी रहेगा। पठन-पाठन में रुचि रहेगी, पारिवारिक जीवन सुखमय रहेगा। नौकरी में तरक्की के अवसर मिलेंगे, संपत्ति का विस्तार हो सकता है।

कन्या राशि- कारोबार के विस्तार की योजना साकार होगी, भाइयों का सहयोग मिलेगा लेकिन परिश्रम की अधिकता रहेगी। घर-परिवार में मांगलिक कार्य होंगे, अनियोजित खर्चें बढ़ेंगे।

तुला राशि- वाणी में कठोरता के भाव रहेंगे, बातचीत में संयत रहें। वस्त्रों आदि के प्रति रूझान बढ़ेगा। माता से विचारों में मतभेद हो सकते हैं लेकिन धन प्राप्ति भी है। संचित धन में वृद्धि होगी, नौकरी में अफसरों का सहयोग मिलेगा।

वृश्चिक राशि- आत्मविश्वास से लबरेज रहेंगे, लेकिन आत्म संयत रहें। आलस्य की अधिकता रहेगी, घर-परिवार की सुख सुविधाओं का विस्तार होगा। जीवन साथी से मनमुटाव हो सकता है।

धनु राशि- आत्मविश्वास से परिपूर्ण रहेंगे, अध्ययन में रुचि रहेगी। संपत्ति के रखरखाव पर खर्चे बढ़ सकते हैं। जीवनसाथी का स्वास्थ्य विकार हो सकता है, चिकित्सा कार्यों में खर्च बढ़ सकते हैं।

मकर राशि- धैर्यशीलता में कमी आएगी, आत्म संयत रहें। वाणी का प्रभाव बढ़ेगा, किसी धार्मिक सत्संगी कार्यक्रम में जाना हो सकता है। रहन-सहन में असहज रहेंगे, मीठे खान-पान की ओर रूझान बढ़ेगा।

कुंभ राशि- मन में प्रसन्नता के भाव तो रहेंगे, फिर भी आत्म संयत रहें। क्रोध के अतिरेक से बचें, माता से वैचारिक मतभेद हो सकते हैं। नौकरी में किसी दूसरे स्थान पर जाना हो सकता है, आय में वृद्धि होगी।

मीन राशि- आत्मविश्वास में कमी रहेगी लेकिन परिवार का सहयोग मिलेगा। परिवार के साथ किसी धार्मिक स्थान की यात्रा पर जाना हो सकता है।

….………..

डिसक्लेमर

'इस लेख में दी गई जानकारी/सामग्री/गणना की प्रामाणिकता या विश्वसनीयता की गारंटी नहीं है। सूचना के विभिन्न माध्यमों/ज्योतिषियों/पंचांग/प्रवचनों/धार्मिक मान्यताओं/धर्मग्रंथों से संकलित करके यह सूचना आप तक प्रेषित की गई हैं। हमारा उद्देश्य सिर्फ सूचना पहुंचाना है, पाठक या उपयोगकर्ता इसे सिर्फ सूचना समझकर ही लें। इसके अतिरिक्त इसके किसी भी तरह से उपयोग की जिम्मेदारी स्वयं उपयोगकर्ता या पाठक की ही होगी।'

Posted By: Brajesh Shukla

NaiDunia Local
NaiDunia Local