जबलपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। जबलपुर से मंडला के बीच राष्ट्रीय राजमार्ग में 50 किलोमीटर दूर कुंडामैली गांव के पास 500 मीटर का सड़क निर्माण अधूरा है। इसे मप्र रोड डेवलपमेंट कार्पोरेशन तीन माह में पूरा करने का दावा कर रहा है। जब तक सड़क निर्माण पूरा नहीं हो जाता है तब तक टोल भी नहीं वसूला जा सकता है। जबलपुर से 81 किलोमीटर दूर आमाटोला में टोल वसूला जाना है। अधिकारियों का कहना है कि व्हीकल अंडरपास बनाया जाना है। फिलहाल यहां से गुजरने वाले वाहनों का मार्ग परिवर्तित किया गया है।

एमपीआरडीसी के मुताबिक 451 करोड़ की लागत से बन रही इस सड़क का निर्माण समय से बहुत पीछे चल रहा है। 2019 में इस काम को पूर्ण करना था। पहले ही समय बीतने की वजह से अतिरिक्त समय लिया गया था उसके बावजूद ठेकेदार ये काम नहीं पूरा कर सका। अब किसी तरह इस निर्माण को पूरा करने पर जोर दिया जा रहा है। यहां से निकलने वाले वाहनों को 500 मीटर का यह मार्ग बहुत भारी पड़ता है। कई वाहन सड़क खराब होने की वजह से वैकल्पिक मार्ग से जाना पसंद करते हैं।

टोल लगने से पहले सड़क सुधारेंगे : जबलपुर-मंडला मार्ग जहां निर्माण पूरा हो चुका है वहां अब सड़क में दरार आ गई है। जिस वजह से वाहनों को निकलने में परेशानी होती है। तेज रफ्तार वाहनों का सड़क खराब होने के कारण नियंत्रण बिगड़ जाता है। कई बार इस वजह से दुर्घटना हो जाती है। अधिकारियों का कहना है कि टोल शुरू होने से पहले जर्जर स्थानों काे दोबारा सुधार किया जाएगा। जहां भी वाहनों की रफ्तार पर सड़क बाधा बन रही है उसे ठीक किया जाएगा। एमपीआरडीसी की तरफ से 81 किलोमीटर दूर आमाटोला गांव में टोल नाका लगाने का निर्णय लिया है। इसके लिए सड़क निर्माण के बाद निविदा बुलाई जाएगी। अधिकारी की माने तो अंडरपास की रीवाल का काम किया जाना है। ये करीब 500 मीटर का काम है। अभी चूल्हा गुलाई से डोबी गांव के बीच 22 किलोमीटर का हिस्सा निर्माण हो चुका है। इसमें करीब 200 करोड़ रुपये लागत आई थी। वहीं दूसरा हिस्सा डोबी गांव से कटरा मंडला के बीच का 63 किलोमीटर का है। इसकी लागत करीब 451 करोड़ रुपये है। इसी भाग में 500 मीटर का हिस्सा अभी बनना बाकी है। वहीं तीसरा हिस्सा मंडला से चिल्पी के बीच का 91 किलोमीटर का भाग है जिसका निर्माण कार्य पूर्ण हो चुका है।

Posted By: Brajesh Shukla

NaiDunia Local
NaiDunia Local