जबलपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। शहर की होटल, मैरिज गार्डन, निजी अस्पताल और कमर्शियल काम्प्लेक्स नए सिरे से नापे जाएंगे। नाप के दौरान यदि कोई संपत्ति कम पायी जाती है तो उसे ई-पोर्टल में दुरूस्त भी किया जाएगा। यह काम 15 दिन में पूरा करना है। निगमायुक्त ने इसके आदेश जारी कर दिए हैं।

नयी संपत्तियों को ढूंढने के लिए नगर निगम द्वारा चलाए जा रहे अभियान के तहत अब होटल, मैरिज गार्डन, निजी अस्पताल और कमर्शियल काम्प्लेक्स को भी नये सिरे से नापा जाएगा। हालांकि इन संपत्तियों की जांच पूर्व में भी हो चुकी है। बावजूद इसके निगमायुक्त ने नये सिरे से नाप जोख करने के निर्देश दिए हैं। दरअसल कई संपत्तियों के खिलाफ शिकायत मिल रही थी कि जितने क्षेत्रफल में निर्माण हुआ है निगम रिकार्ड में उतना क्षेत्रफल दर्ज नहीं है। इसी वजह से इनकी नापजोख फिर करने कहा गया है।

ई-पोर्टल की प्रविष्टी से होगा मिलान: नगर निगम की टीम संपत्तियों की नये सिरे से जांच करने के साथ ई-पोर्टल में दर्ज प्रविष्टि से भी मिलान करेंगे। यह भी देखा जाएगा कि व्यावसायिक संपत्ति कब बनी हैं और ई-पोर्टल में कब से दर्ज हुई हैं। इसका मिलान भी मौके पर ही किया जाएगा।

पहले ही हो चुकी नाप-जोख: जिन संपत्तियों की नाप-जोख नये सिरे से करने के निगमायुक्त ने निर्देश दिए हैं उनकी जांच पूर्व में भी दो से तीन दफा हो चुकी है। इसके बाद भी निगम की प्रविष्टि से मिलान करने पर यदि गड़बड़ी मिलती है तो सीधा से आशय होगा कि इसमें निगम कर्मचारियों की ही मिली भगत हो सकती है।

करों की वसूली भी मौके पर होगी: निगमायुक्त ने होटल, अस्पताल और मैरिज गार्डन की जांच के साथ ही करों की वसूली के लिए घर-घर जाने के निर्देश दिए हैं। लोगों को बकायादारों से मौके पर ही कर की वसूली करनी है जो भी बकायादार कर नहीं देगा उसके खिलाफ कुर्की के भी निर्देश दिए गए हैं।

Posted By: Ravindra Suhane

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस