जबलपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। गोसलपुर रामनगर मढ़ोद निवासी दंपती की हत्या के आरोपित जीजा-साले को पुलिस ने चंद घंटे के भीतर गिरफ्तार कर लिया है। कड़ी पूछताछ उपरांत आरोपितों को कोर्ट में पेश किया गया, जहां से उन्हें जेल भेज दिया गया। गोसलपुर थाना प्रभारी एसआइ पुष्कर मिश्रा ने बताया कि रामनगर मढ़ोद निवासी लाला कोल 45 वर्ष व उनकी पत्नी वर्षा कोल 40 वर्ष पर कुल्हाड़ी से जानलेवा हमला किया गया था।

हमले में लाला की मौके पर ही मौत हो गई थी तथा वर्षा ने उपचार के दौरान मेडिकल कालेज अस्पताल में दम तोड़ दिया। दंपती की बेटी कल्पना कोल ने बताया कि शुक्रवार शाम करीब चार बजे उसे पता चला कि मम्मी व पापा डेलवाले खेत गए हैं। वह खेत में पहुंची तो गांव में रहने वाला गांधी दिप्पू उर्फ दीपक एवं सुहागी अधारताल निवासी उसका जीजा दीपक कोल उसके खेत में बाड़ी लगा रहे थे। उसके पिता लाला तथा मां वर्षा दोनों को खेत में बाड़ी लगाने से मना कर रही थीं। जिसके बाद दिप्पू व उसका जीजा दीपक उसके पिता लाला को अपशब्द कहने लगे। लाला ने अपशब्द कहने से मना किया तो जीजा व साले ने उस पर कुल्हाड़ी से हमला कर दिया। वर्षा ने बीच बचाव का प्रयास किया तो दोनों ने उस पर भी कुल्हाड़ी चला दी।

हमले में लाला कोल की मौके पर मौत हो गई थी। वर्षा कोल को मेडिकल में भर्ती कराया गया था, जहां उपचार के दौरान चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया। वारदात की सूचना मिलते ही एएसपी ग्रामीण शिवेश सिंह बघेल, एसडीओपी सिहोरा श्रुतकीर्ति सोमवंशी समेत अन्य अधिकारी मौके पर पहुंचे। पुलिस अधीक्षक सिद्धार्थ बहुगुणा ने प्रकरण दर्ज कर आरोपितों की गिरफ्तारी के निर्देश दिए थे। जिसके बाद पुलिस टीम का गठन कर आरोपितों की पतासाजी शुरू की गई।

पुलिस टीम ने ग्राम रानीताल नहर के किनारे से दीपक उर्फ दिप्पू 18 वर्ष निवासी ग्राम रामनगर एव उसके जीजा दीपक कोल 28 वर्ष निवासी सुहागी अधारताल को गिरफ्तार कर लिया। दोनों के कब्जे से हत्या में प्रयुक्त कुल्हाड़ी भी जब्त की गई। आरोपितों की गिरफ्तारी में गोसलपुर थाना प्रभारी मिश्रा, उप निरीक्षक दीपू कुशवाहा, सतीष अनुरागी, विनोद बागरी, सहायक उप निरीक्षक राजेश मिश्रा, आरपी चौधरी, आरक्षक समर सिंह, सतेंद्र, रिंकेश, तरुण, नेमचंद, अवधेश, सैनिक शिवकुमार की भूमिका रही।

Posted By: Ravindra Suhane

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close