जबलपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। जवाहरलाल नेहरु कृषि विवि द्वारा अनुभवी एवं प्रतिभावान प्राध्यापकों द्वारा छात्रों के लिए आनलाइन उच्चस्तरीय मार्गदर्शन एवं कोचिंग का विशेष कार्यक्रम संचालित किया जाता रहा है। कृषि विज्ञानिक चयन मंडल (एएसआरबी) द्वारा आयोजित राष्ट्रीय पात्रता परीक्षा 2021 एवं आइसीएआर नेट परीक्षा में जनेकृविवि के 152 छात्र-छात्राओं ने नेट क्वालीफाइड कर राष्ट्रीय स्तर पर अपनी मेधाविता सिद्ध की है। इसी प्रकार एएसआरबी द्वारा आयोजित कृषि अनुसंधान सेवाएं परीक्षा में एआरएस प्रीलिम्स में 17 छात्र-छात्राओं ने प्रवीणता के साथ विशिष्ट सफलता अर्जित की है।

एआरएस (प्रीलिम्स) की परीक्षाओं में सफलता अर्जित किए छात्रों को 28 नंवबर को आयोजित होने वाली मुख्य परीक्षा में सफलता हासिल करने के लिए आनलाइन व्याख्यान दिया जा रहा है। जनेकृविवि के डा.आरके नेमा, मुख्य अंवेषक नाहेप के सहयोग से एआरएस मुख्य परीक्षा एवं अन्य प्रतियोगी परीक्षाओं के कार्यक्रम आयोजित किए गए। इस व्याख्यान के आयोजन में कृषि महाविद्यालय जबलपुर के सहायक छात्र कल्याण अधिकारी डा. अमित झा का सराहनीय सहयोग रहा। व्याख्यान में बड़ी संख्या में विद्यार्थियों ने भाग लिया। अधिष्ठाता छात्र के टूयूटोरियल सेल के कोआर्डिनेटर डा. अनय रावत, डा. आशीष कुमार निगम का विशेष सहयोग रहा।

कौशल में दक्षता के लिए प्रशिक्षण शुरू : जवाहरलाल नेहरु कृषि विश्वविद्यालय स्थित कृषि अभियांत्रिकी महाविद्यालय में भारत सरकार की परियोजना नेशनल एग्रीकल्चर एजुकेशन प्रोजेक्ट (एनएएचइपी) द्वारा यूजी, पीजी एवं पीएचडी छात्रों में मौखिक अंग्रेजी और लेखन कौशल की क्षमता निर्माण के माध्यम से भाषा दक्षता में सुधार के लिए 10 दिनी प्रशिक्षण शुरू हुआ, जिसमें 200 छात्र शमिल हुए। मुख्य अन्वेषक डा. आरके नेमा, डा. मनोज कुमार अवस्थी (प्रिंसिपल साइंटिस्ट) के निर्देशन तथा डा. दीपक राठी के संयोजन में शुरू प्रशिक्षण में विभिन्न कृषि महाविद्यालय जबलपुर, बालाघाट, रीवा, छिंदवाड़ा, गंजबासौदा, रहली, सागर एवं कृषि अभियांत्रिकी जबलपुर के विद्यार्थी भाग ले रहे हैं।

Posted By: Brajesh Shukla

NaiDunia Local
NaiDunia Local