जबलपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। कोरोना संक्रमण के बाद बाजार फिर गुलजार हो गए हैं। नवरात्र से लेकर दिवाली से पहले ही आटोमोबाइल स्डस्ट्री में बूम आ गया है। हर दिन शोरूम में सैकड़ों की संख्या में वाहनों को लेकर इक्वायरी पहुंच रही है। त्योहार के पहले ही बुकिंग तेज हो गई है। इसकी बड़ी वजह सीमित उत्पादन होना है। इंडस्ट्री में जिस तेजी से डिमांड बढ़ी है उसके लिहाज से उत्पादन नहीं हो पा रहा हैं ऐसे में साफ है कि जो पहले बुकिंग करेगा उसे डिलेवरी भी उतनी ही जल्दी मिल पाएगी। नईदुनिया दफ्तर में सोमवार को आटोमोबाइल इंडस्ट्री से जुड़े विक्रेताओं और विशेषज्ञों के साथ संवाद हुआ।

आटोमोबाइल इंडस्ट्री के विशेषज्ञों ने कहा कि इस बार बाजार में भारी उछाल दिखाई दे रहा है। हर दिन इक्वायरी बढ़ रही है। इसकी वजह आसानी से फाइनेंस सुविधा होना है। मौजूदा दौर में बैंकिंग सेक्टर में अच्छे कस्टमर के लिए 100 फीसद तक फाइनेंस की सुविधा है। कम ब्याजदर और सीमित कागजी कार्रवाई के साथ यह सुविधा दी जा रही है। कई बैंक ने तो कोविड के बाद लोन के लिए लगने वाले प्रोसेसिंग शुल्क को भी माफ कर दिया है।

अच्छी स्कीम आ रही: मारूति आटोमोबाइल इडस्ट्री के अंबर सक्सेना ने कहा कि कंपनियां बेहतरीन आफर लांच कर रही है। लोग त्योहार में इसी का इंतजार करते हैं। मध्यवर्ग की तरफ से ज्यादा वाहनों की खरीदी का इक्वायरी है। दरअसल इन सेंगमेंट में कस्टमर परिवार की सुरक्षा के लिहाज से वाहन खरीदना चाहता है। महालक्ष्मी के त्योहार के बाद से ही बुकिंग की प्रक्रिया तेज होने की उम्मीद है।

जल्द बुकिंग से पसंदीदा मिलेगा माडल: मारूतिकार डीलर स्पर्श केमतानी ने कहा कि पिछले सालों की तुलना में इस साल आटोमोबाइल इंडस्ट्री में उत्पादन बाधित है। स्टाक में कम वाहन शो रूम में पहुंच रहे हैंं ऐसे में सप्लाई की तुलना में डिमांड अधिक बनी है। लिहाजा तय है कि त्योहार तक सीमित लोगों को ही उनके पसंदीदा माडल डिलेवर हो पाएगें। इसलिए बेहतर है कि पसंद का माडल समय पर डिलेवरी लेने के लिए कस्टमर त्योहार तक इंतजार न करें। वो पहले आओ पहले पाओं की तर्ज पर जल्द बुकिंग कराए।

डिजिटल हो गए शो रूम: कोरोना से सुरक्षित रहने के लिए वाहन शो रूम में पर्याप्त सुरक्षा इंतजाम किए गए है। डीलर्स की माने तो कोविड में शोरूम डिजिटल कर दिए गए हैंं उपभोक्ता को कान्टेक्ट लेस सर्विस दी जा रही है। इसके लिए हर प्रतिनिधि को आईपेड दिया गया है ताकि वो प्रिंटेड ब्रोशर की बजाए डिजिटल ही उपभोक्ताओं को माडल और उसकी खूबियों के बारे में बता सकें।

स्पर्श केमतानी ने बताया कि ब्रोशर के अलावा कोटेशन तक ई-मेल और वाट्सअप के जरिए उपभोक्ता को भेजी जाती है। यहीं नहीं पसंद से लेकर डिलेवरी तक सारी प्रक्रिया उपभोक्ता यदि चाहते हैं तो उन्हें घर पर उपलब्ध कराई जाती है। इसके अलावा डीलर्स कोविड गाइडलाइन का पालन पूरी तरह से शो रूम में कर रहे हैं। कार की टेस्ट ड्राइव से पहले उसका सैनिटाइजेशन और अस्थाई सीट कवर लगाए जाते हैं ताकि हर कस्टम को सुरक्षित राइड मिल पाए। स्कोडा और फाक्सवैगन कंपनी जबलपुर के वाइस प्रेसीडेंट मनीष राज अवस्थी का मानना है कि कोविड ने कई आपदा के साथ नए अवसर भी पैदा किए है। आज के दौर में हर परिवार एक कार की जरूरत महसूस कर रहा है। इस वजह से डिमांड बनी हुई है।

------------------------------

पेट्रोल डीजल को जीएसटी के दायरे में लाने से मार्केट में और ज्यादा उछाल आएगा। सरकार को आटोमोबाइल पर जीएसटी में कमी लानी चाहिए ताकि आम लोगों की पहुंच गाड़ी हो सके। आज के दौर में हर वर्ग को सुरक्षा के लिहाज से वाहन की जरूरत महसूस हो रही है। इस वजह से मार्केट में तेज है।

मनीष राज अवस्थी, वाइस प्रेसीडेंट फाक्सवैगन जबलपुर

........

मध्यम श्रेणी के चार पहिया वाहनों को लेकर लगातार इक्वायरी बढ़ रही है। लोग अभी से बुकिंग करवा रहे हैं। हमारे शो रूम में सेल्स,सर्विस,वाडीशाप की सारी सुविधा एक छत के नीचे उपलब्ध है। इन दिनों फाइनेंस बहुत ही ईजी हो चुका है इस वजह से लोग भी वाहन खरीदी के प्रति आकर्षित हो रहे हैं।

अंबर सक्सेना, प्रमुख मॉ गायत्री आटोमोबाइल्स करमेता

.........

इस बार पसंद की गाड़ी लेने वाले त्योहार का इंतजार नहीं कर रहे हैंं कोरोना की वजह से उत्पादन पहले की तुलना में कम हो रहा है ऐसे में हर डीलर के पास सीमित स्टाक है जिसके हिसाब से ही वह डिलेवरी कर पाएगा। ऐसे में लोग जितने जल्द बुकिंग करेंगे उन्हें समय पर वाहन उपलब्ध हो पाएगा।

स्पर्श केमतानी, मैनेजिंग डायरेक्टर शुभ मोटर्स

Posted By: Ravindra Suhane

NaiDunia Local
NaiDunia Local