जबलपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। अपर सत्र न्यायाधीश कविता गुप्ता की अदालत ने बिट क्वाइन के नाम पर सात लाख रुपये हड़पने की आरोपित मदन महल, जबलपुर निवासी दिलप्रीत कौर छाबड़ा की अग्रिम जमानत अर्जी खारिज कर दी। आपत्तिकर्ता राइट टाउन, जबलपुर निवासी राजेश शुक्ल की ओर से अधिवक्ता आनंद शर्मा व वैभव गर्ग ने अग्रिम जमानत अर्जी का विरोध किया। उन्होंने दलील दी कि आरोपित ने अपने पति रूपिंदर पाल सिंह छाबड़ा उर्फ हैप्पी के साथ मिलकर बिट क्वाइन के नाम पर छलावा किया है। इस मामले की शिकायत पर लार्डगंज पुलिस ने धारा-420 सहित अन्य के तहत अपराध कायम किया है। आरोपितों ने न तो निवेश की गई राशि और न ही मुनाफा दिया है। इस वजह से आपत्तिकर्ता के सात लाख रुपये फंस गए। पहले चरण में तीन लाख, दूसरे में 50 हजार नकद और तीसरे चरण में तीन लाख 50 हजार रुपये एकाउंट में जमा कराए गए।

खेत व कुंए पर कब्जा, पेड़ भी काट दिए : जबलपुर से सटे घाट पिपरिया निवासी कृषक रामसेवक बर्मन ने कलेक्टर व एसपी को एक शिकायत सौंपी। इसके जरिए आरोप लगाया कि गांव के दबंग लोगों ने उनके खेत और कुंए पर जबरन कब्जा कर लिया है। यही नहीं सारे पेड़ काट दिए गए। जेसीबी मशीन के जरिए सब चौपट कर दिया गया। बिना सीमांकन कराए कब्जे की भूमि से बेदखल करने का यह रवैया चिंताजनक है। इससे पूरा परिवार सड़क पर आ गया है। जीवनधारा के तहत कुंआ खुदवाया गया था। यह 40 फुट गहरा और पक्का बंधा था। इससे निस्तार होता था। साथ ही खेतों की सिंचाई भी। लेकिन अब आजीविका का मूल साधन छिन गया है।

खेत तक जाने के लिए रास्ता नहीं दे रहे : बरगी थाने के अंतर्गत मुकनवारा के किसान वीरेंद्र दुबे ने अपनी शिकायत में कहा है कि उन्हें गांव के दबंगें ने अपने खेत तक जाने के लिए रास्ता नहीं दिया जा रहा है।

Posted By: Ravindra Suhane

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस