जबलपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। रोजगार मूलक योजनाओं के नाम पर फर्जीवाड़े की जांच में फंसे सुरेश मतानी के अपराधों की कुंडली खंगालने में क्राइम ब्रांच जुट गई है। इस बीच मतानी के गुर्गे भी सक्रिय हो गए हैं। गुर्गों की धमकी से डरी एक युवती ने परिवार सहित प्रकरण से दूरी बना ली। इधर, चार और पीडि़तों ने क्राइम ब्रांच थाना पहुंचकर बयान दर्ज कराए। इस तरह पीडि़तों की संख्या पांच हो गई है। क्राइम डीएसपी सुशील चौहान ने पीडि़तों के बयान दर्ज किए।क्राइम ब्रांच से बचने के लिए मतानी परिवार सहित भागा-भागा फिरने मजबूर है। उसके ठिकानों पर ताले लटके मिले। पुलिस अधीक्षक सिद्धार्थ बहुगुणा ने मामले की तह तक जाकर पतासाजी के निर्देश दिए हैं। उन्होंने स्पष्ट किया है कि सरकार की रोजगार संबंधी योजनाओं में बेरोजगारों के नाम पर किसी भी तरह की जालसाजी बर्दाश्त नहीं की जाएगी।

यह है मामला : आइटीआइ माढ़ोताल निवासी नरेंद्र सिंह ठाकुर ने पुलिस अधीक्षक से शिकायत की थी। नरेंद्र ने बताया कि वाहनों की धुलाई का काम करता है। मिल कारोबारी शांति नगर निवासी सुरेश मतानी से उसकी जान पहचान थी। बैंक से 50 हजार रुपये का लोन दिलाने के बहाने उसने उसकी पत्नी, भाई व बहू के पहचान संबंधी मूल दस्तावेज लिए थे। उनके नाम पर यूनियन बैंक की विजयनगर शाखा से लाखों का रोजगार लोन स्वीकृत करवा दिया। लाखों की सब्सिडी हड़पने के लिए उसने यह तरीका अपनाया था। लोन की किश्तें भी मतानी जमा कर रहा था ताकि हकीकत का पता न चले। इस बीच नरेंद्र को एक बैंक अधिकारी ने लोन की जानकारी दी। उसके परिवार के सदस्यों के नाम यूनियन बैंक से लाखों का लोन स्वीकृत होने का पता चला। लोन की रकम ज्योति फुड्स रजिस्टर फर्म के खाते में ट्रांसफर की गई थी।

सीडीआर खोलेगी राज : क्राइम ब्रांच ने मतानी, फरियादी व मतानी के गुर्गों के मोबाइल की सीडीआर निकलवा रही है। बैंक से संबंधित दिनों के सीसीटीवी फुटेज मांगे जा रहे हैं। बैंक ने किस आधार पर मजदूरों को लाखों का लोन दिया इसका पता लगाया जा रहा है। इस बीच मतानी के गुर्गें पीडि़तों को समझौता करने के लिए धमका रहे हैं।

इनका कहना है :

रोजगार योजना के नाम पर मजदूर युवकों के नाम लोन स्वीकृत कराने की शिकायत की जांच की जा रही है। पीडि़तों के बयान दर्ज कर सुरेश मतानी का पता लगाया जा रहा है। बैंक अधिकारियों से भी पूछताछ की जाएगी।

- गोपाल प्रसाद खांडेल, एएसपी क्राइम

Posted By: Brajesh Shukla

NaiDunia Local
NaiDunia Local