जबलपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। संजीवनी नगर थाना क्षेत्र में एचआइजीसी सामुदायिक भवन के पास धनवंतरि नगर निवासी गैंस एजेंसी संचालक के बेटे का अपहरण का प्रयास करने वाले चार आरोपितों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। वहीं दो आरोपित फरार हो गए है। आरोपित ने कर्ज चुकाने के लिए यह घटना को अंजाम देने का प्रयास किया, लेकिन गैस एजेंसी संचालक के बेटे के साहस के कारण आरोपित इस घटना को अंजाम नहीं दे पाए।

एसपी सिद्धार्थ बहुगुणा ने बताया कि एचआइजीसी 96 सामुदायिक भवन के पास धनवंतरि नगर निवासी सुजल कुसरे (17) 11वीं कक्षा में पढ़ता है। उसके पिता समीक्षा टाउन में संदीप गैस एजेंसी का संचालन करते हैं। सोमवार दोपहर लगभग 2.30 बजे घंटी बजी तो वह गेट के पास पहुंचा। उसकी मां छत में थी, घंटी बजाने वाले पांच युवक कार लेकर आए थे। उनमें से तीन युवक उतरे और बोले की पापा से बात हो गई है, जो कार बेचना है उसे देखने आए हैं। तो वह बाहर निकला और तीनों को कार दिखा दिया। इसके बाद तीनों को छोड़ने के लिए बाहर गया। तभी एक युवक ने उसे अपना मोबाइल देकर बोला कि कार में बैठकर अपनी गाड़ी का रजिस्ट्रेशन नंबर लिख दो मुझे कागजात की जांच करनी है। लेकिन सुजल कार में नहीं बैठा बाहर खड़े होकर ही मोबाइल में रजिस्ट्रेशन नंबर डालने लगा, तभी कार के बाजू में खड़े दो युवक उसे धक्का देकर कार में बैठाने लगे। धक्का देते ही उसे संदेह हुआ और वह चिल्लाने लगा। उसकी आवाज सुनकर उसकी मां भी छत से चिल्लाने लगी, आवाज सुनकर क्षेत्रीयजन भी एकत्रित होने लगे, तभी आरोपित कमेटी हाल की ओर भाग निकले। घटना की सूचना मिलते ही आरोपितों की तलाश के लिए एएसपी क्राइम गोपाल खांडेल, गोरखपुर सीएसपी आलोक शर्मा टीम के साथ मौके पर पहुंचे और सीसीटीवी फुटेज खंगाले और सुजल के पिता संदीप कुसरे से पूछताछ की गई। संदीप ने पूछताछ में बताया कि उसने अपनी कार बेचने की चर्चा तीन लोगों से की थी। इस दौरान उसके मोबाइल पर एक अज्ञात नंबर से मिस फोन भी आया था।

नंबर के आधार पर लकी को हिरासत में लेकर की पूछताछ : नंबर के आधार पर संदेही लकी सिंह राजपूत को हिरासत में लेकर पूछताछ की गई। लकी ने बताया कि उसकी गौ गैस के नाम से गैस एजेंसी बजरंग नगर पानी की टंकी के पास है। जहां उसका ऑफिस भी है। उसके पिता इंदर सिंह राजपूत 30 साल से संदीप गैस एजेंसी समीक्षा टाउन कांचघर में प्राइवेट नौकरी करते हैं। जिनके मालिक संदीप कुसरे हैं। उसकी गौ गैस एजेंसी में कर्मिशयल सिलिंडर का ही व्यापार होता है, जो कोरोना महामारी के वक्त लगे लॉकडाउन में उसके व्यापार में घाटा लग गया था। जिसके कारण वह अपने कर्मचारियों को वेतन बांटने के लिए पांच लाख रुपये का कर्ज लिया है। जिसे व्यापारियों को नहीं लौटा पा रहा था। व्यापारियों को रुपये देने के लिए उसने अपने घर को गिरवी रख दिया था। लेकिन वह अपने घर को गिरवी से नहीं छुड़ा पा रहा था। तभी उसे पता चला कि संदीप कुसरे अपनी कार बेच रहे हैं। उसने संदीप को फोन लगाकर पूछा, तो उन्होंने बताया कि 3 लाख रुपये में बेचेंगे। इसके बाद उसने कुछ लोगों से बात की और बताया कि 4 लाख रुपये में कार बिकाऊ है।

दो माह पूर्व गया था कार देखने : लकी ने बताया कि लगभग 2 माह पूर्व वह अपने साथी गोविंद कोल और आनंद दाहिया के साथ संदीप से बातचीत करके उनके घर अपनी बाइक से कार देखने गया था। उनके बेटे सुजल ने ही कार दिखाई थी। वह उनकी कार को देखकर अपने साथियों के साथ घर वापस आ गया था। कार देखने के तीन दिन बाद उसने सुजल का अपहरण करने की योजना बनाई। साथ ही अपहरण की फिरौती में 50 लाख रुपये की मांग करने का निर्णय लिया। इस काम में उसने अपने साथी गोविंद और आनंद को बताया। तो दोनों ने अपहरण में साथ देने के लिए कहा।

17 फरवरी को करना था अपहरण : लकी ने बताया कि वह अपने साथी गोविंद और आनंद के साथ एक कार किराए पर लेकर 17 फरवरी को संदीप के घर उसके बेटे सुजल का अपहरण करने पहुंचे थे। कार को फिर सुजल ने दिखाया, लेकिन उस दिन घर में ज्यादा लोग होने के कारण गाड़ी देखकर वापस आ गए। इसके बाद तीनों ने अपहरण के लिए और लोगों को साथ में रखने की योजना बनाई और अपने साथियों के साथ मिलकर राहुल, सत्यम और शिव पटेल को साथ में मिलाया और गोविंद के चचेरे भाई रिंकू की कार किराए पर ली। कार की नंबर प्लेट निकाल दी थी। 22 फरवरी को फिर से वह कार देखने पहुंचे। जहां सुजल ने कार दिखाई और जैसे ही उसे धक्का देकर कार के अंदर बैठाने लगे, तो उसने चिल्लाना शुरू कर दिया। इसके बाद वह सभी दहशत में आ गए और अपने घर चले गए। सूचना पर आरोपित लकी उसके साथी गोविंद, आनंद और राहुल को गिरफ्तार किया गया। वहीं सत्यम कुशवाहा और शिव पटेल की तलाश की जा रही है। आरोपितों के पास से इनोवा कार, दो बाइक, चार मोबाइल और दो सिम जब्त की गई है।

Posted By: Brajesh Shukla

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags