Jabalpur Crime News: जबलपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। बेलबाग थाना क्षेत्र में मंगलवार की रात शादी समारोह के अंतर्गत मेंहदी की खुशियां पलभर में मातम में बदल गईं। लोग खुशी में नाच गा रहे थे तभी अचानक गोली चलने की आवाज आई। 12 बोर बंदूक से चली गोली 26 वर्षीय युवक के सीने में घुस चुकी थी जिसने कुछ ही देर में दम तोड़ दिया। प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक गोली पूर्व मंत्री अंचल सोनकर के रिश्तेदार प्रद्युम्न सोनकर ने चलाई थी। जिससे पुलिस लाइन निवासी रोहित पिल्ले की मौत हो गई। गोली चलने से अफरा तफरी मच गई। खून से लथपथ रोहित को निजी अस्पताल ले जाया गया जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

हल्दी समारोह के दौरान हुई घटना

सुरक्षा के लिहाज से कई थानों का पुलिस बल घटनास्थल व अस्पताल भेजा गया। गुरुवार को मेडिकल कालेज अस्पताल में पोस्टमार्टम उपरांत शव स्वजन को सौंपा जाएगा। रोहित के पिता पुलिस विभाग में हवलदार हैं। घटना पांडे अस्पताल घमापुर के पास रहने वाले मिंटू सोनकर के घर आयोजित हल्दी समारोह के दौरान की है। ओमती सीएसपी आरडी भारद्वाज ने बताया कि जांच की जा रही है कि गोली किन परिस्थितियों में चली।

पूर्व मंत्री के बेटे का साला है आरोपित

बेलबाग पुलिस के अनुसार मंगलवार रात मिंटू के घर हल्दी की रस्म चल रही थी। इस दौरान गीत-संगीत पर तमाम लोग थिरक रहा था। मेंहदी कार्यक्रम में पुलिस लाइंस निवासी रोहित पिल्ले भी गया था। वहीं प्रद्युम्मन सोनकर भी वहां आया था। खुशी के माहौल में प्रद्युम्नन ने अपनी 12 बोर की बंदूक से गोली चला दी। गोली सीधे रोहित के सीने में लगी और वह जमीन पर गिर गया। घटना के बाद प्रद्युम्नन मौके से फरार हो गया। प्रद्युम्न पूर्व मंत्री अंचल सोनकर के बेटे पार्षद राम सोनकर का साला बताया जाता है।

अस्पताल में जमा हुई भीड़, पुलिस ने सम्हाला मोर्चा

घटना के कुछ देर बाद ही रोहित के स्वजन अस्पताल पहुंच गए। यहां जवान बेटे के शव को देखकर मां किरण पिल्ले व अन्य स्वजन के आंसू थम नहीं रहे थे। इधर ओमती थाना प्रभारी प्रफुल्ल श्रीवास्तव और गोरखपुर थाना प्रभारी एसपीएस बघेल भी अस्पताल पहुंचे। जहां रोहित के स्वजन और घटना के चश्मदीदों से बातचीत की। रोहित के शव को अस्पताल की मरचुरी में रखवा दिया गया है।

दो महीने पहले ही हुआ था पिता का आपरेशन

रोहित के चाचा पीएस पिल्ले ने बताया कि रोहित के पिता वासु का दो माह पूर्व ही हृदय का आपरेशन हुआ है। जैसे ही बड़े बेटे रोहित की मौत की खबर वासु को लगी, तो वे बदहवास हो गए। छोटे भाई विवेक की आंखों से भी आंसू नहीं थम रहे थे। कोई यह मानने तैयार नहीं था कि जिस रोहित को उन्होंने कुछ देर पहले सही-सलामत देखा था, वह अब इस दुनिया में नहीं हैं। रोहित की बहन की शादी हो चुकी है वह पुणे में रहती है। रोहित निजी कंपनी में कार्य करता था तथा अविवाहित था।

Posted By: Prashant Pandey

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close