जबलपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। संभागीय आयुक्त ने संभाग के सभी जिला कलेक्टरों से शासन की प्राथमिकता व ज्वलंत विषयों पर चर्चा कर प्रगति की समीक्षा की। वीडियो कांफ्रेसिंग के माध्यम से उन्होंने सीएम जनसेवा अंतर्गत प्राप्त आवेदनों के पंजीयन व उनके निराकरण पर जोर देते हुए कहा कि लंबित प्रकरणों का निराकरण प्राथमिकता से किया जाए। विशेष रूप से संबल-2 व मुख्यमंत्री उद्यम क्रांति योजना के लंबित प्रकरणों का निराकरण करें। स्कूलों में व्यवस्थित शौचालयों की उपलब्धता हो।

कमिश्नर बी.चन्द्रशेखर ने सीएम राईज स्कूलों के संबंध में कहा कि इस दिशा में जो भी समस्या आ रही हैं उनके निराकरण को भी प्राथमिकता दें। आयुष्मान योजना अंतर्गत सभी पात्र व्यक्तियों के कार्ड मिशन मोड में आकर बनाएं। इस दौरान उन्होंने सभी जिला कलेक्टरों से प्रतिदिन बनने वाले आयुष्मान कार्ड की जानकारी लेकर समीक्षा की। वीसी के दौरान शालाओं की रिपोर्ट की समीक्षा करते हुए उन्होंने विद्यार्थियों व शिक्षकों की उपस्थिति, शालाओं में विद्युत कनेक्शन, हर कक्ष में लाईट एवं पंखे की उपलब्धता की जानकारी ली। उन्होंने कहा कि किसी भी स्कूल में यदि शौचालय चालू हालत में नहीं हैं, तो इसके लिए संस्था प्रमुख को जवाबदार माना जाएगा। ऐसे मामलों में संबंधित संस्था प्रमुखों के विरूद्ध कारण बताओ नोटिस के साथ ही एक दिन का वेतन काटने की कार्रवाई करें।

संभागायुक्त ने वीसी के दौरान सीएम हेल्पलाइन के निराकरण की समीक्षा करते हुए कहा कि इस दिशा में प्राथमिकता से कार्य करें और प्रगति लाएं। उन्होंने कहा कि अधिकांश छात्रावासों में सीटें रिक्त हैं। अत: शासन की गाइडलाइन अनुसार उन्हें भरने की कार्रवाई करें। बी. चन्द्रशेखर ने कहा कि नशा मुक्ति की दिशा में भी आवश्यक कार्रवाई करें। इसके लिए पुलिस अधीक्षक के साथ बैठक कर ठोस कार्रवाई करें। किसी भी शाला परिसर तथा आस-पास चाय दुकान व पान ठेले आदि में किसी प्रकार के मादक पदार्थ का विक्रय न हो। यदि ऐसा कहीं पाया जाता है तो मादक पदार्थ की चेन-ब्रेक की कार्रवाई करें।

Posted By: Mukesh Vishwakarma

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close