जबलपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। मंगलवार की सुबह से पुलिस को चकरघिन्नी बनाकर रखे लुटेरों को अंतत: पकड़ लिया गया। इन आरोपितों ने 24 घंटे के भीतर अलग-अलग थाना क्षेत्रों में तीन लोगाें के मोबाइल झपटे थे। लूट का शिकार हुए लोगों में से एक बुजुर्ग संभागायुक्त बी.चंद्रशेखर के ससुर भी रहे। लिहाजा पुलिस ने तत्काल आरोपितों की खोजबीन शुरू कर दी। करीब 24 घंटों के भीतर ही चार आरोपितोंं को हिरासत में ले लिया। पकड़े गए सभी आरोपित नाबालिग हैं, जाे नशे के आदी बताए जा रहे हैं।

गौरतलब है कि ओमती, मदनमहल और गोराबाजार थाना क्षेत्रों में अज्ञात मोटर सायकिल सवारों ने झपट्टा मार तरीके से मोबाइल लूट की तीन घटनाओं को अंजाम दिया था। जिन लोगाें को इन लुटेरों ने अपना शिकार बनाया, उनमें से एक सुभाषचंद मालवड़कर रहे। सुभाषचंद संभागायुक्त बी चंद्रशेखर के ससुर रहे। पुलिस ने मामले की संवेदनशीलता काे देखते हुए तत्काल लुटेरों के हुलिए के आधार पर उनकी तलाश शुरू कर दी। सीसीटीवी फुटेज के आधार पर पुलिस ने आरोपितों की शिनाख्ती का काम शुरू किया। इसी दौरान मिले सुरागों के सहारे पुलिस ने टेढ़ी नीम और बाबा टोला में रहने वाले दो किशोरों को पूछताछ के लिए पकड़ा। इन किशोरों ने लूट की वारदातों को स्वीकार करते हुए यह भी बता दिया कि उन्होंने अपराध में प्रयुक्त एक्सेस गाड़ी और लूटे गए मोबाइल कहां छुपाए हैं। इस सिलसिले में पुलिस ने बड़ा मदार छल्ला में रहने वाले दो अन्य आरोपितों को हिरासत में ले लिया। ये दोनों आरोपी भी नाबालिग हैं। इनके पास से पुलिस ने लूट का मशरूका और अपराध में प्रयुक्त वाहन जब्त कर लिया है।

क्लीनिक गए डाक्टर के घर चोरी

गोरखपुर थाना क्षेत्र में रहने वाले एक डाक्टर के घर चोरी हो गई। पुलिस ने बताया कि रामपुर नया गांव निवासी डा. संजय बंसल रोजाना की तरह 14 मई को अपने बेटे डा.साकेत बंसल के साथ घमापुर स्थित अपने क्लीनिक गए थे। देर शाम जब वे लौटे, तो उन्होंने देखा कि मेन गेट का कुंदा टूटा हुआ है और घर के अंदर अलमारी का सामान बिखरा पड़ा है।

Posted By: Mukesh Vishwakarma

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close