जबलपुर । नेताजी सुभाषचंद बोस मेडीकल कॉलेज अस्पताल में कैंसर पीड़ित बेटे का इलाज कराने आया पिता दो दिन से लापता है। सोमवार को सुबह 8 बजे वह मजदूरी करने के लिए मेडीकल से निकला था। तीसरे दिन भी वह वापस नहीं लौटा तो स्वजन ने गढ़ा थाना पहुंचकर पुलिस से सहायता मांगी। गुमशुदगी दर्ज कर पुलिस उसकी तलाश कर रही है।

मजदूरी करता है गरीब पिता

घटना के संबंध में रोशन नगर कटनी निवासी कविता गौड़ पति दशरथ गौड़ ने बताया कि उनका बेटा विकास (10) कैंसर की चपेट में है। 15 फरवरी को वह पति के साथ मेडीकल पहुंची तथा बेटे को कैंसर अस्पताल में भर्ती कराया। कविता ने बताया कि वह तथा पति मजदूरी कर किसी तरह परिवार का भरण पोषण करते हैं।

इलाज के चलते खर्च हो गई जमा पूंजी

कई दिनों तक मेडिकल में रहने के कारण दोनों मजदूरी पर नहीं जा सके जिसके चलते जमापूंजी खर्च हो गई और भोजन के भी लाले पड़ गए। आर्थिक संकट से निपटने के लिए उसके पति ने यही मजदूरी करने का निर्णय लिया। सुबह मजदूरी पर जाने के बाद वे शाम तक मेडिकल लौट आते थे।

सोमवार सुबह 8 बजे वे मजदूरी करने मेडिकल से गए थे जो तीसरे दिन भी वापस नहीं लौटे। उन्होंने मेडीकल के डीन डॉ. प्रदीप कसार को घटना की जानकारी दी। जिसके बाद उन्होंने गढ़ा थाने को सूचना दी। कविता ने बताया कि उसने हर संभावित जगह पति की तलाश की, रिश्तेदारों व जान पहचान के लोगों से पूछताछ की लेकिन उनका पता नहीं चला।

Posted By: Nai Dunia News Network

fantasy cricket
fantasy cricket