जबलपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। मध्य प्रदेश हाई कोर्ट ने राज्य प्रदूषण नियंत्रण मंडल के जबलपुर क्षेत्रीय प्रबंधक को कहा है कि बालाघाट जिले के कटंगी में राइस मिल द्वारा पर्यावरण प्रदूषित करने की शिकायत पर विधि अनुसार कार्रवाई करे। मुख्य न्यायाधीश मोहम्मद रफीक व जस्टिस संजय द्विवेदी की युगलपीठ ने कहा कि राइस मिल के खिलाफ किसी कार्रवाई के पहले उनका भी पक्ष सुना जाए। इस निर्देश के साथ कोर्ट ने एक जनहित याचिका का पटाक्षेप कर दिया।

प्रदूषित हो रहा वातावरण : बालाघाट जिले के कटंगी कस्बा निवासी कृषक सुरेश बिसेन, अधिवक्ता शैलेश भांगरे, भरत पटले, मनीरामजी पटले की ओर से याचिका दायर कर कहा गया कि वे सभी कटंगी नगर परिषद के वार्ड नंबर तीन स्थित पाथरखेड़ा में रहते हैं। अधिवक्ता शिशिर सोनी ने कोर्ट को बताया कि इसी वार्ड के निवासी दीनदयाल देशमुख ने जयरामदास राइस मिल खोली है। इसका संचालन प्रदूषण नियंत्रण मंडल के नियमों के विपरीत किया जा रहा है। इस मिल के चलते क्षेत्र का वातावरण बुरी तरह प्रदूषित हो रहा है। पर्यावरण प्रदूषण का असर क्षेत्रीयजनों के स्वास्थ्य पर पड़ रहा है। धान की डस्ट और लगातार अनियंत्रित धुंए के चलते क्षेत्र के लोगों का जीना मुश्किल हो रहा है। राइस मिल संचालन के लिए प्रदूषण नियंत्रण मंडल के निर्धारित प्रावधानों का यहां खुलेआम उल्लंघन किया जा रहा है। हर स्तर पर इसकी शिकायत की गई, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई। आग्रह किया गया कि उक्त राइस मिल के खिलाफ प्रदूषण फैलाने के लिए कार्रवाई कर इसका संचालन बंद करने के निर्देश दिए जाएं। अंतिम सुनवाई के बाद कोर्ट ने मध्य प्रदेश प्रदूषण नियंत्रण मंडल के रीजनल डायरेक्टर को शिकायत पर विधि अनुसार कार्रवाई के निर्देश देकर याचिका निराकृत कर दी।

Posted By: Brajesh Shukla

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags