जबलपुर। नईदुनिया प्रतिनिधि

सतना से मानिकपुर के बीच रेलवे ट्रैक का निरीक्षण करने मंगलवार को सीआरएस स्पेशल 78 किलोमीटर तक दौड़ी। स्पेशल 11 कोच की इस स्पेशल ट्रेन में सीआरएस ने विंडो निरीक्षण किया। इसके अलावा उन्होंने सब स्टेशन पर रुककर निरीक्षण भी किया।

कटनी से मानिकपुर रेल खंड में सतना से मानिकपुर के बीच रेलवे ट्रैक के विद्युतीकरण का निरीक्षण करने मंगलवार को सीआरएस स्पेशल ट्रेन दौड़ी। चीफ रेलवे सेफ्टी (सीआरएस) एके जैन ने सतना से सुबह सवा 9 बजे विद्युतीकरण स्पेशल ट्रेन से दौरा शुरू किया। उनके साथ ट्रेन में जबलपुर रेल मंडल के डीआरएम मनोज सिंह के अलावा जबलपुर रेल मंडल व पश्चिम मध्य रेलवे के विद्युत विभाग के आला अधिकारी साथ रहे। स्पेशल ट्रेन में सतना से डीजल इंजन लगाया गया। मानिकपुर से लौटते समय सीआरएस स्पेशल ट्रेन में विद्युत इंजन लगाया, जो मानिकपुर से सगमा तक तकरीबन 78 किमी तक दौड़ा। हालांकि सगमा से सतना के बीच की रेल लाइन के विद्युतीकरण का काम अधूरा होने की वजह से इसका निरीक्षण नहीं हो सका।

11 कोच से दौड़ी सीआरएस स्पेशल

मानिकपुर से सगमा तक के रेलवे ट्रैक का विद्युतीकरण का काम देखने के लिए सीआरएस ने ट्रेन से विंडो निरीक्षण किया। उन्होंने इस ट्रैक पर आने वाले सभी सब स्टेशन पर रुककर काम देखे। इस दौरान कई खामियां भी सामने आईं, जिसे दूर करने के लिए उन्होंने मौके पर ही निर्देश दिए। सतना से सुबह रवाना हुई सीआरएस स्पेशल दोपहर 1.35 पर मानिकपुर पहुंची। यहां से दोपहर 2.20 पर ट्रेन में विद्युत इंजन लगाकर ट्रेन को सगमा के लिए रवाना किया।

Posted By:

NaiDunia Local
NaiDunia Local