जबलपुर। नईदुनिया प्रतिनिधि

मुख्य रेलवे स्टेशन के पार्सल विभाग में आए दिन बिल और लेन-देन को लेकर होने वाले विवाद और खामियों को देखने पहुंची विजिलेंस खाली हाथ लौट आई। उन्हें न तो आवक-जावक में गड़बड़ी मिली न ही बिल्टियों में। गुरुवार की सुबह अचानक मुख्य रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म 1 पर विजिलेंस के अधिकारी संजय मिश्रा और आशीष अवस्थी पहुंचे। सूत्रों के मुताबिक उन्हें खबर मिली थी कि पार्सल विभाग के दस्तावेजों में गड़बड़ी की जा रही है। खबर लगते ही विजिलेंस पहुंच गई, लेकिन उन्हें कुछ हाथ नहीं लगा।

कार्रवाई से पहले खबर पहुंच जाती है

रेलवे की विजिलेंस इस दिनों कार्रवाई करने तो पहुंच रही है, लेकिन खाली हाथ लौट आने से उनकी कार्यशैली पर सवाल खड़े हो गए हैं। सूत्रों के मुताबिक विजिलेंस के अधिकारियों के पहुंचने से पहले ही उनके आने की खबर पहुंच जाती है, जिससे उन्हें बिना कार्रवाई किए खाली हाथ लौटना पड़ रहा है। इधर ट्रेनों में भीड़ की वजह से हो रही तत्काल टिकट की दलाली में भी अब तक विजिलेंस ने कोई बड़ी कार्रवाई नहीं की है या दलाल नहीं पकड़ा है। जबकि महानगरी में डुप्लीकेट टिकट लेकर सफर करने का मामला सामने आ चुका है।