जबलपुर। नईदुनिया प्रतिनिधि

नगर निगम जनता के पैसे की बर्बादी किस कदर कर रहा है। उसकी वानगी ग्वारीघाट के उद्यान में देखी जा सकती है। दरअसल स्वच्छता अभियान के तहत ग्वारीघाट के तटों में महिलाओं के लिए लगाए गए 50 से ज्यादा लोहे के चेजिंग रूम पुराने हो गए हैं। इन्हें ठीक करने की बजाय उद्यान में फिंकवा दिया गया है। जहां धूप-बारिश के चलते चेजिंग रूम कबाड़ हो गए। उद्यान को संवारने की बजाए इसे कबाड़खाना बना दिया गया है।

-------

कचरा बाक्स भी उद्यान में पड़े

ग्वारीघाट में श्रद्घालुओं के लिए पूजन करने के बाद निकले कचरे को फेंकने के लिए लगाए गए कचरे के बाक्स भी उद्यान में ही फेंक दिए गए हैं। करीब 30 से ज्यादा कचरा बाक्स यहां पड़े काबड़ हो रहे हैं। जबकि इन्हें तटों के किनारे लगाया जा सकता है।

---------

महिलाओं को हो रही परेशानी

ग्वारीघाट में अब गिनती के ही चेजिंग रूम रखे गए हैं। इससे महिलाओं को कपड़े बदलने में परेशानी हो रही है। खासतौर से तब जब खास अवसरों पर ग्वारीघाट में श्रद्घालुओं की भीड़ बढ़ती है।

----------