जबलपुर। सहायक शिक्षकों को नियुक्ति दिनांक से आज तक पदोन्नत नहीं किया गया। 30 से 35 साल की सेवा पूरी कर अधिकांश शिक्षक सेवानिवृत्त हो गए। लेकिन पदनाम नहीं मिला। यह आरोप मप्र तृतीय वर्ग शासकीय कर्मचारी संघ ने लगाते हुए सहायक शिक्षकों को शिक्षक दिवस पर पदनाम का तोहफा देने की मांग की है। संघ के जिला सचिव सुरेन्द्र जैन ने जारी बयान में बताया कि सहायक शिक्षकों को वेतनमान तो दिया जा रहा है लेकिन पदनाम के लिए तरसाया जा रहा है। वित्तमंत्री तरुण भनोत को ज्ञापन सौंपकर संघ ने सहायक शिक्षकों को पदनाम देने की मांग की है। इस अवसर पर राबर्ट मार्टिन, आशुतोष तिवारी, सुनील जैन, डॉ.संदीप नेमा, राजकुमार नेमा, दुर्गेश पांडे, राजकुमार पांडे, राजेन्द्र कुररिया, केपी दुबे, एमएल शर्मा, अजय दुबे आदि मौजूद रहे।

शैक्षणिक सत्र में सेवानिवृत्ति से पढ़ाई पर असर

शैक्षणिक सत्र के दौरान शिक्षकों को सेवानिवृत्त किए जाने से छात्रों की पढ़ाई प्रभावित हो रही है। मप्र शिक्षक कांग्रेस के प्रांताध्यक्ष निर्मल अग्रवाल, जिला अध्यक्ष विश्वदीप पटेरिया ने राज्य शिक्षा केन्द्र आयुक्त के नाम दिए ज्ञापन में शिक्षकों की सेवानिवृत्ति शैक्षणिक सत्र समाप्त होने के बाद किए जाने की मांग की है। संगठन के संजय उपाध्याय, हरिप्रसन्न त्रिपाठी, रविन्द्र गुप्ता, रमेश साहू, कैलाशचंद आठ्या, अनीता वर्मा, किशन विश्वकर्मा, प्रदीप पटेल, दीप्ति ठाकुर आदि ने बताया कि सत्र के दौरान शिक्षकों की सेवानिवृत्ति हो जाने से कोर्स अधूरा रहता है।

पदनाम, पेंशन को लेकर 31 को मप्र शिक्षक संघ देगा भोपाल में धरना

सहायक शिक्षकों को वेतनमान के अनुरूप पदनाम देने,अध्यापकों को पूर्व की तरह पेंशन देने सहित सहित 21 सूत्रीय मांगों को लेकर प्रदेश भर के शिक्षक 31 अगस्त को मप्र शिक्षक संघ के बैनर तले भोपाल में धरना प्रदर्शन करेंगे।

मप्र शिक्षक संघ के जिला सचिव सुनील पचौरी ने जारी बयान में रविवार को मानकुंवर मेरिज गार्डन में संघ पदाधिकारियों की एक बैठक आयोजित की गईं। जिसमें जिला व ब्लाक पदाधिकारियों को भोपाल के शाहजनी पार्क में आयोजित धरना प्रदर्शन में बड़ी संख्या में शामिल होकर प्रदर्शन को सफल बनाने की लक्ष्य दिया गया। राज्य स्तरीय धरना प्रदर्शन में जबलपुर से करीब एक हजार शिक्षक शामिल होंगे। बैठक में राजेश त्रिपाठी को कार्यकारी अध्यक्ष भी मनोनीत किया गया। बैठक में पं.शिवकुमार दीक्षित, केएल नाकड़ा, सुखदेव बाजपेई, विवेक शुक्ला,महानगर अध्यक्ष सत्येन्द्र सिंह ठाकुर, आशीष तिवारी, एमएल राजपूत, केएल हल्दकार,कृष्ण गोपाल आदि मौजूद रहे।