जबलपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। ग्वारीघाट स्थित भटौली कुंड में गणेश प्रतिमाओं का विसर्जन करने पहुंचने वाले श्रद्धालु व समितियों को इस बार कीचड़ से नहीं जूझना पड़ेगा। छोटी से लेकर बड़ी गणेश प्रतिमाओं का विसर्जन आसानी से हो जाएगा। कुंड में छोटी और ट्रकों से आने वाली बड़ी प्रतिमाओं के विसर्जन के लिए अलग-अलग व्यवस्था की जा रही है। स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के तहत कुंड की सीढ़ियां 'धौलपुरी'और 'कोटा' के पत्थर बनाई गई हैं।

चारों तरफ के हिस्से को सीमेंट से पक्का कर दिया गया है। कुंड तक ट्रकों की आवाजाही के लिए रैम्प और सुरक्षा के मद्देनजर रैलिंग भी लगाई जा रही है। स्मार्ट सिटी का दावा है कि कुंड निर्माण का 90 फीसदी काम पूरा हो गया है। कुंड का बाकी निर्माण कार्य विसर्जन के पहले पूरा कर लिया जाएगा।

ट्रकों से मंगवाए पत्थर

स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के तहत भटौली कुंड को नए सिरे से तैयार करने धौलपुरी, कोटा से पत्थर बुलवा कर लगवाए गए हैं। अभी तक करीब 8 हजार वर्गफीट पत्थर लगाए जा चुके हैं। कुंड के चारों तरफ की मिट्टी कुंड में न मिले इसके लिए क्रांकीट का इस्तेमाल किया जा रहा है।

कुंड तक आसानी से जा सकेंगे ट्रक

- कुंड के चारों तरफ किया जा रहा सीमेंटीकरण

- क्रांकीट व पैराफिट वॉल का किया गया निर्माण

- बड़ी गणेश प्रतिमाओं का विसर्जन करने ट्रक कुंड तक आसानी से आ-जा सकेंगे।

- घरों से लाई जाने वाली छोटी गणेश प्रतिमाओं का विसर्जन सीढ़ियों से नीचे उतर कर किया जा सकेगा।

- सुरक्षा के लिहाजा से रैम्प और सीढ़ियों में स्टील की रैलिंग लगाई जाएगी।

12 करोड़ से बन रहा कुंड, ओपन एयर थियेटर

- स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के तहत भटौली में करीब 12.5 एकड़ जमीन में आकर्षक ओपन एयर थियेटर बनाया जा रहा है।

- जबकि पुराने कच्चे विसर्जन कुंड को नया और आकर्षक रूप दिया जा रहा है। दोनों निर्माण कार्यों की लागत करीब 12.5 करोड़ रुपए बताई जा रही है।

7 हजार प्रतिमाओं का होता है विसर्जन

विदित हो कि नर्मदा में प्रतिमाओं के विसर्जन पर सख्ती से लगी रोक के चलते भटौली कुंड को नए सिरे से तैयार किया जा रहा है। यहां गणेश उत्सव के दौरान यहां करीब 7 से 8 हजार प्रतिमाओं का विसर्जन किया जाता है।

भटौली कुंड और ओपन एयर थियेटर का निर्माण कराया जा रहा है। कुंड को नया स्वरूप दिया गया है। गणेश विसर्जन के पहले कुंड बनकर तैयार हो जाएगा। -रवि राव, प्रशासनिक अधिकारी, स्मार्ट सिटी

मध्‍यप्रदेश में रियायती दर के राशन में फर्जीवाड़े की आशंका, होगा सत्यापन

Madhya Pradesh : 108 करोड़ के कर्ज माफी घोटाले में शिवराज सरकार ने दोषियों के खिलाफ बरती थी नरमी

Posted By: Nai Dunia News Network

fantasy cricket
fantasy cricket