जबलपुर। नईदुनिया प्रतिनिधि

आयुध निर्माणी खमरिया (ओएफके) की व्यवस्थाओं को लेकर कर्मचारियों में आक्रोश भड़क रहा है। ओएफके संयुक्त संघर्ष समिति शनिवार को सुबह निर्माणी की मौजूदा व्यवस्था के विरोध में पर्चा बांटेगी। दोपहर 12 बजे समिति निर्माणी के महाप्रबंधक रविकांत को ज्ञापन देकर 3 दिन में सभी व्यवस्थाओं को सुधारने की अपील करेंगे।

संयुक्त संघर्ष समिति ने बताया कि इस निर्माणी में पर्याप्त वर्कलोड होने के बाद भी कर्मचारियों को काम का अवसर नहीं मिल रहा है। निर्माणी के सभी अनुभागों के कर्मचारी सप्ताह में 48 घंटे की ड्यूटी करते हैं। निर्माणी प्रशासन ने कर्मचारियों को पहले 54 घंटे काम देने का भरोसा दिलाया था। वर्तमान में निर्माणी में कच्चे माल की कमी से गोलाबारूद उत्पादन प्रभावित हो रहा है। निर्माणी के गेट पर सुरक्षा विभाग द्वारा कर्मचारियों के लिए परेशान किया जा रहा है। जबकि स्टेट में असामाजिक तत्वों की गतिविधियां बढ़ने से ईस्टलैंड व वेस्टलैंड स्टेट में चोरियां होने लगीं हैं।

3 दिन में बदलो, नहीं तो आंदोलन

संयुक्त संघर्ष समिति में एआईडीईएफ, आईएनडीडब्ल्यूएफ व बीपीएमएस के सभी सदस्य शामिल हैं। समिति सदस्यों ने कहा है कि महाप्रबंधक से निर्माणी की व्यवस्थाओं को 3 दिन में नहीं बदला तो आंदोलन किया जाएगा।

उपस्थिति की अपील

एआईडीईएफ के रामप्रवेश, अर्नबदास गुप्ता, धन बहादुर थापा, राकेश रंजन, आईएनडीडब्ल्यूएफ के अरूण दुबे, अनूप सीरिया, आनंद शर्मा, बीपीएमएस के रूपेश पाठक, पुष्पेंद्र सिंह, राकेश शर्मा, राजेंद्र चड़रिया ने कर्मचारियों से उपस्थिति की अपील की है।