फोटो-

जबलपुर। नईदुनिया प्रतिनिधि

कॉलेज परिसर से बुलेट चोरी के खिलाफ छात्र नेताओं के साथ ज्ञानगंगा कॉलेज के गेट पर तालाबंदी करने वाला बीई का छात्र ही चोरी के आरोप में पकड़ा गया। पुलिस ने आरोपित हर्ष अग्रवाल (19) निवासी स्टेट बैंक कॉलोनी थाना गोपालगंज सागर तथा वर्तमान पता शास्त्रीनगर तिलवारा के कब्जे से चोरी की बुलेट बाइक जब्त कर ली है। प्रकरण दर्ज कर पुलिस ने न्यायालय के आदेश पर मंगलवार को उसे जेल भेज दिया। विदित हो कि गोपालबाग दमोहनाका निवासी बीई के छात्र आयुष राठौर की बुलेट 4 अक्टूबर को ज्ञानगंगा कॉलेज परिसर से चोरी हो गई थी। इसके बाद अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद से जुड़े छात्र नेताओं ने तालाबंदी कर कॉलेज में प्रदर्शन किया था। प्रदर्शनकारियों में चोरी का आरोपित हर्ष भी शामिल था, जो कि चोरी करने के बाद उसी बुलेट से कॉलेज आता-जाता रहा।

बुलेट चलाने का शौक पूरा करने रचा था षड़यंत्र-

तिलवारा पुलिस के मुताबिक बुलेट चलाने का शौक पूरा करने के लिए हर्ष ने चोरी का षड़यंत्र रचा था। उसने सबसे पहले आयुष से दोस्ती की। फिर एक चक्कर चलाने के बहाने उसकी बुलेट मांगी। बुलेट मिलते ही वह उस पर हाथ साफ करने निकला और बाजार से उसकी डुप्लीकेट चाबी बनवा ली। मौका मिलते ही उसने 4 अक्टूबर को आयुष की बुलेट (एमपी-20 एनएच 0710) कॉलेज परिसर से पार कर दी।

कॉलेज में ही पकड़ा गया-

पुलिस ने आयुष को कॉलेज परिसर से ही चोरी की बुलेट के साथ गिरफ्तार किया। पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली थी कि हर्ष जो बुलेट चला रहा है उसके कागजात नहीं हैं। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर पूछताछ की तो हकीकत सामने आ गई। वह बुलेट के दस्तावेज नहीं दे पाया जिसके बाद पुलिस ने चेचिस नंबर से वाहन मालिक का पता लगाया। हर्ष ने बताया कि उसने बाइक की नंबर प्लेट हटाकर साइलेंसर भी बदलवा दिया था ताकि किसी को उस पर संदेह न हो।

............

ज्ञानगंगा इंजीनियरिंग कॉलेज से बुलेट चोरी के आरोप में वहीं अध्ययनरत बीई प्रथम वर्ष के छात्र को गिरफ्तार किया गया है। उसके कब्जे से बुलेट जब्त कर ली गई है।

रीना पांडेय, थाना प्रभारी, तिलवारा

Posted By: Nai Dunia News Network