जबलपुर। नईदुनिया रिपोर्टर

स्टेट बैंक ज्ञानार्जन व विकास संस्थान द्वारा रक्तदान शिविर आयोजित किया गया। शिविर में उप महाप्रबंधक गोपाल झा ने कहा कि देश हर रोज करीब 40 हजार यूनिट रक्त की कमी से जूझता है। ऐसे में इस समय अधिक से अधिक रक्तदान शिविरों की जरूरत है। इन्होंने रक्तदान शिविर का उद्घाटन करते हुए उम्मीद जताई कि स्टेट बैंक का ज्ञानार्जन केंद्र अपने सामाजिक सरोकार की श्रंखला में इस तरह के शिविर आयोजित करता रहेगा। इस अवसर पर ज्ञानार्जन केंद्र के निदेशक राजीव कुमार शर्मा ने कहा कि रक्तदान मनुष्य जीवन की रक्षा करता है इसलिए इसे महान दान कहा जाता है। इन्होंने कहा कि इस रक्तदान शिविर में स्टेट बैंक के अधिकारियों और कर्मचारियों ने जिस उत्साह से भागीदारी दर्ज की वह उनके सामाजिक सरोकारों को दर्शाता है। शिविर में सबसे खास बात यह रही की तीस वर्ष की उम्र तक के बैंक कर्मचारियों ने बढ़-चढ़ कर हिस्सा लिया। इस अवसर पर शासकीय मेडिकल कॉलेज स्थित ब्लड बैंक के डॉक्टर शिशिर चिनपुरिया ने कहा कि स्टेट बैंक के इस आयोजन से दूसरे संस्थानों को प्रेरणा लेना चाहिए। शिविर में स्टेट बैंक के क्षेत्रीय प्रबंधक प्राणेश प्रशांत, गोविंद शर्मा और पीवी श्रीवास्तव, मुख्य प्रबंधक लक्ष्मीनारायण देवांगन के साथ ही ज्ञानार्जन केंद्र के संकाय सदस्य अंजलि प्रकाश, सुब्रत मिश्र, एसपी अग्रवाल, अभय कुमार, नीरज याग्निक, धीरज गनवानी व नीतू साहू उपस्थित रहीं। शिविर के आयोजन में ब्लड बैंक अधिकारी डॉक्टर शिशिर चनपुरिया, डॉ.बृजेंद्र शर्मा, डॉ.आरती और डॉ.अर्चना शुक्ला का सहयोग रहा।

Posted By: Nai Dunia News Network