जबलपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। नगर निगम ने शहर को स्वच्छ बनाने का अभियान तो जोर शोर से छेड़ा है, लेकिन जिन सड़कों की सफाई कर वह स्वच्छता का दावा कर रहा है, उन सड़कों के दोनों ओर बने मार्केट उसके स्वच्छता अभियान पर पतीला लगा रहे हैं।

अधारताल चौक से अधारताल तालाब तक बनी सड़क के चौड़ीकरण के काम में नगर निगम से वाहन चालकों को राहत देते हुए इस सड़क को चौड़ा करने के लिए टेंडर जारी किया और फिर सड़क के दोनों ओर खोदकर मटेरियल डाला। इसे गिट्टी और डस्ट से भर दिया गया। इसका डामलीकरण किया जाना था, लेकिन नगर निगम इस काम को भूल गया। अब एक साल से सड़क के दोनों ओर अधूरी सड़क खाली होने से इस पर अतिक्रमण जम गए। हालात यह है कि अब यहां नया मार्केट तैयार हो गया है। सड़क के दोनों ओर फर्नीचर से लेकर स्टील, कपड़े, खाना और चाय-पानी के टपरे लग गए हैं।

जिस सड़क को दो और चार पहिया वाहन चालक की सुविधा के लिए चौड़ा किया जाना था, नगर निगम की अनदेखी से वहां अब अतिक्रमण जम गए हैं। इन अतिक्रमणों का साइज अब बड़ी-बड़ी दुकानों ने ले लिया है। लोगों ने खाली जगह देखते ही बांस-बल्ली यहां तक की टेंट लगाकर अपनी दुकान सजा ली है। अधारताल नगर निगम कार्यालय की सीमा में आने वाले इस क्षेत्र को अतिक्रमण मुक्त रखने की बजाए उनसे उल्टे वसूली की जा रही है। हर दुकानदार को यहां पर दुकान लगाने के लिए हर दिन की एक निश्चित राशि निगम के बाजार विभाग के कर्मचारियों को देनी होती है।

Posted By: Ravindra Suhane

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags