जबलपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। नवरात्रि में मंदिर में दर्शन और आयोजन करने पर पाबंदी लग सकती है। हालांकि इसके लिए शासन से निर्देश आने शेष हैं लेकिन पुलिस ने अपनी तैयारियां पूरी कर ली है।

भंडारे, रैली, जुलूस पर रहेगी पुलिस की नजर : भंडारे, रैली, जुलूस पर पुलिस की निगरानी रहेगी। वहीं आयोजन करने वाले पहले ही संबंधित थाने में सूचना देंगे। साथ ही वह नियमों के अनुसार ही काम करना होगा। यदि इसमें भीड़ अधिक होती है, तो कार्रवाई भी की जा सकती है। जिसके लिए पहले ही आयोजन समिति के सदस्यों की बैठक बुलाकर उन्हें स्पष्ट निर्देश दे दिए जाएंगे।

मंदिर के सदस्य करें श्रद्धालुओं को जागरूक : मंदिर के सदस्य, पुजारियों को निर्देश दिए जाएंगे कि वह मंदिर में दर्शन करने आने वाले श्रद्धालुओं को शारीरिक दूरी का पालन कराते हुए दर्शन के लिए कहेंगे। मंदिर में भीड़ न लगे इसका ध्यान रखें और वहीं इस व्यवस्था को ठीक तरह से चलाने के लिए वॉलेंटियर्स भी रखें। ताकि किसी प्रकार की समस्या न हो। दर्शन करने वालों को मूर्ति का स्पर्श नहीं करने दें और दर्शन करके जल्द ही रवाना होने के लिए कहें।

जुलूस, यात्रा के लिए तय होगी सदस्यों की संख्या : पर्व के दौरान जुलूस, यात्रा निकालने वाले सदस्यों की संख्या निर्धारित की जाएगी। जैसे पांच सदस्य ही उस आयोजन में शामिल हो सकेंगे वह भी नियमों का पालन करते हुए पूरे धार्मिक कार्य करेंगे।

कोड रेड की टीम भी रहेगी अलर्ट : कोड रेड टीम के सदस्यों को भी अलर्ट कर दिया गया है। जो लगातार मंदिरों के पास भ्रमण करते हुए निगरानी रखेंगे। इसमें महिलाओं की भी भीड़ एकत्रित होने पर उनको समझाइश देकर जागरूक किया जाएगा।

लाकडाउन में करना पड़ेगा नियम का पालन : लाकडाउन अब दो दिन का हो गया है। लाकडाउन के नियमों का पालन करते हुए ही पर्व मनाना पड़ेगा। इसमें किसी भी प्रकार की कोई छूट नहीं दी जाएगी।

Posted By: Brajesh Shukla

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags