जबलपुर, नईदुनिया प्र​तिनिधि। लाकडाउन लगते ही शहर की सफाई व्यवस्था भी पटरी से उतर गई है। हालात यह है कि कई वार्ड में सफाई ही नहीं हो रही। यहां तक की कचरा गाड़ी भी अब आना बंद हो गई है। अधारताल, महाराजपुर, सुहागी, सुभाष नगर, हर्ष नगर में पिछले तीन दिनों से कचरा गाड़ी नहीं आई और न ही सफाई कर्मचारी। हर तरह गंदगी का ढेर लगा है। लोग घरों पर हैं, जिससे अब कचरा और निकल रहा है। इस बीच कचरा गाडी न आने से लोग अब घर के सामने ही कचरा फेंकना शुरू कर दिया है।

35 कर्मचारी भी नहीं आ रहे: सफाई ठेकेदार को हर वार्ड में 35 सफाई कर्मचारी लगाना है, लेकिन 35 तो दूर 20 भी नहीं आ रहे। हालांकि कर्मचारियों की अनुपस्थित को भी अब दर्ज नहीं किया जा रहा। कई वार्ड के कर्मचारियों को पहले वार्ड में काम करने के बाद दूसरे वार्ड में भी काम कराया जा रहा है। सुभाष नगर के अधिकांश सफाई कर्मचरियों को महाराजपुर और अन्य वार्ड में लगा दिया गया है।

वेतन न मिलने से काम बंद: शहर की आधे से ज्यादा वार्ड की सफाई निजी हाथों में है । अभी भी शहर की कई ऐसे वार्ड है जहां पर सफाई कर्मचारियों को वेतन नहीं मिल रहा है ।जिससे उन्होंने काम रोक दिया है । सूत्रों के मुताबिक पुराने ठेकेदार द्वारा वेतन भुगतान न किए जाने से सफाई कर्मचारियों की आर्थिक स्थिति बिगड़ गई है और उन्होंने फिलहाल काम रोक दिया है।

कहा क्या है स्थिति

महाराजपुर- तीन से चार दिन पहले ही सफाई हुई थी। कचरा गाडी भी नहीं आ रही।

सुभाष नगर- यहां पर हर चौराहे पर गंदगी का ढेर लगा हुआ है। कोई उठाने नहीं आया

हर्ष नगर- कचरा गाडी न आने से लोगों ने अब अपने घर के बाहर की कचरा का ढेर लगा​ दिया है

सुहागी- अधिकांश कालोनी और मोहल्लों में कई दिनों से झाडू तक नहीं लगी है।

Posted By: Ravindra Suhane

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags