जबलपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। नगर निगम की अंधेरगर्दी से न सिर्फ जनता परेशान है। बल्कि निगम का खजाने को भी बट्टा लग रहा है। दअरसल शहर के अधिकांश मुख्य सड़कों से लेकर गली-मोहल्लों में रात में स्ट्रीट लाइट भले ही नहीं जल रही है। लेकिन दिन के वक्त सड़क, गली मोहल्लों की स्ट्रीट लाइट रोशन है। जिसके कारण नगर निगम पर बिजली बिल का भार पड़ रहा है और खजाने भी खाली हो रहा है।

दिन में जल रही स्ट्रीट लाइट : सोमवार को कांचघर से इंदिरा मार्केट रोड पर सड़क किनारे लगी लगभग 15 से 20 स्ट्रीट लाइट जल रही थी। दिन के वक्त स्ट्रीट लाइट जलती देख राह से गुजरने वाले और आस-पास रहने वाले भी ठिठक गए। उनका कहना था कि नगर निगम काम भी अजीब है। रात में यहां की लाइट जलती नहीं और दिन में लाइट टिमटिमा रही है।

अक्सर रहता है अंधेरा : विदित हो कि कांचघर से इंदिरा मार्केट रोड में बर्न कंपनी से लेकर बीमा अस्पताल और रेलवे सराय स्कूल तक की स्ट्रीट लाइट अक्सर ही बंद रहती है। रात में अंधेरा होने के कारण आवागमन करने वालों को परेशानी होती है। खासकर उन्हें जो सुबह चार बजे सब्जी लेने सब्जी मंडी आते-जाते हैं।

तलैया की लाइट भी बंद : इसी तरह कुछ दिनों से जोन क्रंमाक 9 लालमाटी के तहत आने वाली चांदमारी तलैया की स्ट्रीट लाइट भी बंद है। जबकि आस-पास के क्षेत्र में दिन के वक्त लाइट जल रही है।

निगम पर बिजली बिल का एक करोड़ था बकाया : नगर निगम की इसी लापरवाही के कारण निगम को भारी भरकम बिजली बिल भी चुकाना पड़ रहा है। निगम पर बिजली विभाग का करीब एक करोड़ रुपये का बिल भी बकाया था। बिल न चुकाने पर बिजली विभाग ने कई स्ट्रीट लाइट के कनेक्शन भी बंद कर दिए थे। बावजूद इसके नगर निगम की कार्यप्रणाली में सुधार नहीं आ रहा है।

Posted By: Brajesh Shukla

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags