जबलपुर, नईदुनिया रिपोर्टर। शहर के जवाहरलाल नेहरू कृषि विश्वविद्यालय के डॉ.अमित कुमार शर्मा अधिष्ठाता छात्र कल्याण अप्रैल में कोरोना संक्रमित हुए थे, उनके साथ पूरा परिवार कोरोना संक्रमित हुआ और पूरे परिवार के साथ होम आइसोलेशन में रहते हुए कोरोना को मात दी। डॉ.अमित कुमार ने बताया कि जब हर तरफ से नकारात्मक खबरें ही मिल रही थी और पूरा परिवार कोरोना से जूझ रहा था। तब हमने प्राकृतिक चिकित्सा का भी खास ध्यान रखा। आयुर्वेद दवाईयों का सेवन किया। व्यायाम और योग को नियमित तौर पर किया। इस दौरान ही सोच लिया था कि माहौल ठीक होते ही पूरे परिवार के साथ किसी प्राकृतिक चिकित्सा केन्द्र जाएंगे। जहां प्रकृति के करीब जाने का मौका मिले। जिसके बाद इन्हें बाबा राम देव के केन्द्र हरिद्वार में जाने का मौका मिला और पूरे परिवार के साथ हरिद्वार पहुंच गए।

प्रकृति के बीच मिल रही खुशी : हरिद्वार में प्रकृति के बीच रहकर पूरा परिवार काफी खुश है और इसके साथ ही अब डॉ.अमित कुमार शर्मा योग दिवस के मौके पर हरिद्वार में ही रहकर एक राष्ट्रीय स्तर के वेबिनार का आयोजन करने जा रहे हैं। जिसमें देशभर के विभिन्न विश्वविद्यालयों के विद्यार्थी जुड़ेंगे और बाबा रामदेव भी इस वेबिनार का हिस्सा बनेंगे। उन्होंने बताया कि कोरोना के साथ जीने की हम सभी को आदत डालनी होगी। अब तीसरी लहर को लेकर भी हमें तैयार होना होगा। कोरोना के कारण हम घर पर कैद नहीं रह सकते। इसलिए हमें अपनी पौराणिक चिकित्सा पद्धतियों और जीवनशैली को अपनाना होगा। इससे हम अपने इम्यून सिस्टम को मजबूत कर सकते हैं। इसके लिए हम प्रकृति के करीब आना होगा।

Posted By: Brajesh Shukla

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

NaiDunia Local
NaiDunia Local
 
Show More Tags