जबलपुर। नईदुनिया प्रतिनिधि

सफाई का मुआयना करने के दौरान कार से न उतरने वाले मुख्य स्वास्थ्य अधिकारियों को अब न सिर्फ वार्ड में पैदल घूमना करना होगा बल्कि घर-घर दस्तक भी देनी होगी। क्योंकि रोजाना 4 करोड़ की टैक्स वसूली का टारगेट पूरा करने के लिए निगमायुक्त ने राजस्व विभाग का सहयोग करने के लिए स्वास्थ्य विभाग के मुख्य स्वाथ्य निरीक्षकों (सीएसआई) की ड्यूटी भी लगा दी गई है। यानी सीएसआई को अब अपने-अपने वार्डों में सुबह सफाई व्यवस्था का निरीक्षण तो करना ही होगा टैक्स वसूली के लिए घर-घर दस्तक भी देनी होगी। मंगलवार को नगर निगम का राजस्व अमला 4 करोड़ की जगह 1 करोड़ 10 लाख ही वसूल पाया।

2 बजे के बाद करेंगे वसूली

निगमायुक्त आशीष कुमार ने राजस्व वसूली में संभागीय,राजस्व अधिकारियों को टैक्स वसूली में सहयोग करने कहा है। सीएसआई दोपहर 2 बजे के बाद संपत्ति,जलकर की वसूली में राजस्व अमले का सहयोग करेंगे। वार्ड के नागरिकों से उनका सीधा संपर्क होने के कारण विवाद के हालात भी नहीं बनेंगे।

------

15 सीएसआई को दी गई है वाहन सुविधा

विदित हो कि शहर के सभी 15 संभागीय कार्यालयों में तैनात सीएसआई को वार्डों में सफाई व्यवस्था का निरीक्षण करने के लिए वाहन सुविधा उपलब्ध कराई गई है। नागरिकों का आरोप है कि पहले तो सीएसआई वार्डों का निरीक्षण कर लेते थे लेकिन जब से वाहन सुविधा मिली है वह वार्ड की तंग गलियों में घुसते ही नहीं। आ भी गए तो कार से नहीं उतरते। नए वार्ड क्रमांक 79 के पार्षद विनोद चौधरी भी नगर निगम सदन की बैठक में यह आरोप लगा चुके हैं।

-------

राजस्व वसूली के लक्ष्य को देखते हुए सीएसआई का सहयोग लिया जा रहा है। निगमायुक्त ने समीक्षा बैठक में सहयोग करने के निर्देश दिए हैं।

-पीएन सनखेरे, उपायुक्त राजस्व

Posted By: Nai Dunia News Network