जबलपुर। नईदुनिया प्रतिनिधि

लॉकडाउन के कारण कई क्षेत्र जहां पूरी तरह बंद हैं वहीं इस दौरान जलापूर्ति नहीं होने से नागरिक जमकर परेशान हो रहे हैं। दीक्षितपुरा स्थित नट बाबा की गली में बीते तीन दिनों से पीने का पानी नहीं आ रहा था। लॉकडाउन के दौरान भी लोगों को घरों से निकल कर काफी दूर से पानी ढोकर लाना पड़ रहा था। इसकी जानकारी जैसे ही उत्तर क्षेत्र के विधायक विनय सक्सेना को लगी तो उन्होंने मंगलवार को बोरिंग मशीन पहुंचवाई। इसके बाद बंद पड़ी बोरिंग सुधारी गई। इससे सैंकड़ों परिवार को आ रही पेय जल की समस्या से निजात मिल गई।

अग्नि दुर्घटना के पीड़ित को दिया अपना घरः

विगत दिनों लटकारी के पड़ाव में एक गरीब युवक के मकान में अचानक लगी आग से उसकी पूरी गृहस्थी तबाह हो गई थी। वह घर से बेघर हो चुका था। जिसकी जानकारी लगते ही विधायक विनय सक्सेना मंगलवार सुबह पीड़ित के घर पहुंचे और निजी रूप से उसकी आर्थिक मदद की। वह किराये के मकान में रहता था जो पूरी तरह जल गया था। इस पीड़ा को समझते हुए विधायक ने पीड़ित को वैकल्पिक व्यवस्था होने तक राइट टाउन स्थित कार्यालय अथवा विजय नगर स्थित निवास में जहां भी उसका मन चाहे रहने कह दिया। साथ ही दैनिक उपयोग की वस्तुएं भी विधायक ने उपलब्ध कराई।

बारात घर को बनाया भोजन वितरण केंद्रः

कोरोना महामारी से बचने लागू लॉकडाउन में भूखों को खाना खिलाने विधायक विनय सक्सेना ने शीतलपुरी स्थित अग्रवाल बारात घर को भोजन वितरण केंद्र के रूप में स्थापित कर दिया है। यहां से बीते 9 दिनों से रोजाना 4 से 5 हजार लोगों को भोजन पहुंचाने का काम वॉलेंटियर कर रहे हैं। इस कार्य की निगरानी खुद विधायक कर रहे हैं।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

जीतेगा भारत हारेगा कोरोना
जीतेगा भारत हारेगा कोरोना