पनागर। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पनागर में पदस्थ डॉक्टर की लापरवाही से व इलाज समय पर नहीं करने से 16 वर्षीय विवेकानंद वार्ड पनागर निवासी प्रति चौधरी की मृत्यु हो गई। परिजन उसे गुरुवार की रात में पनागर हॉस्पिटल लेकर पहुंचे लेकिन डॉक्टर ने देखा तक नहीं और घर वापस लौटा दिया। शुक्रवार को सुबह फिर अचानक स्वास्थ्य बिगड़ने पर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पनागर लेकर आए तो डॉक्टर ने 20 मिनिट तक प्रीति का इलाज नहीं किया। इससे उसकी मृत्यु हो गई। डॉक्टरों ने परिजन द्वारा हंगामा खड़ा न हो उसे देखकर एम्बुलेंस में मेडिकल रेफर कर दिया। जहां उसे मेडिकल के डॉक्टर ने मृत घोषित कर दिया।

इनका कहना

श्रीवास्तव डॉक्टर की नाइट ड्यूटी थीं। प्रीति को रात पर लाए गये थे। वह हार्ट की भी मरीज है। उनके परिजन से मेडिकल ले जाने कहा लेकिन वे उसे प्राइवेट में चैक कराने बोल रहे थे।

संतोष ठाकुर, बीएमओ

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस