जबलपुर। पांच अगस्त से उच्च शिक्षा विभाग प्रवेश की प्रक्रिया प्रारंभ कर रहा है। इसके लिए चार अगस्त से कॉलेज में प्राध्यापकों को हाजिर होने का फरमान दिया गया है। आदेश के खिलाफ महाविद्यालयीन प्राध्यापक संघ ने विरोध शुरू कर दिया है। आरोप लगाया कि विश्वविद्यालय अनुदान आयोग और केंद्र सरकार ने सभी शिक्षण संस्थानों को 31 अगस्त तक बंद रखने के निर्देश दिए हैं इसके बावजूद उच्च शिक्षा विभाग ने शत प्रतिशत हाजिरी का आदेश जारी किया है। इस संबंध में मुख्यमंत्री के नाम चिट्ठी लिखी गई है। संघ के संभागीय अध्यक्ष डॉ.अरुण शुक्ला ने कहा कि केंद्रीय गृह मंत्रालय ने अनलॉक तीन में साफ किया है कि स्कूल और कॉलेजों को पूरी तरह से 31 अगस्त तक बंद रखा जाए। ऐसे में विभागीय आदेश से केंद्र और राज्य सरकार के आदेश में विरोधाभास जाहिर हो रहा है। ये विधि सम्मत नहीं है।

बढ़ेगा संक्रमणः

संघ के प्रदेश अध्यक्ष डॉ.कैलाश त्यागी ने कहा कि कॉलेज खुलने के बाद विद्यार्थी दस्तावेजों का सत्यापन के लिए सीधे संस्थानों में पहुंचेंगे। इससे असुविधा के साथ संक्रमण बढ़ने का खतरा होगा। वहीं ऑनलाइन ई-सत्यापन की सुविधा विभाग ने दी हुई फिर भी विद्यार्थी बेवजह कॉलेजों में पहुंचने का प्रयास करेंगे।

Posted By:

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

Ram Mandir Bhumi Pujan
Ram Mandir Bhumi Pujan