जबलपुर। नईदुनिया प्रतिनिधि

इस्लाम धर्मावलंबियों के पवित्र पर्व ईदुज्जुहा शनिवार को परंपरागत आस्था और अकीदत के साथ मनाया गया। इस मौके पर ईदगाह रानीताल में सुबह 9.30 बजे मुफ्ती ए आजम मौलाना साहब सहित चंद लोगों ने शारीरिक दूरी का पालन करते हुए ईद की नमाज अदा की। मुस्लिम बहुल क्षेत्र की मस्जिदों में भी ईद की नमाज अदा की गई। बड़ी तादाद में लोगों ने अपने घरों में ही ईद की नमाज अदा की। नमाजोपरांत सूक्ष्म एवं संपन्न मुस्लिमों ने परंपरानुसार बकरों की कुर्बानी पेश की।

मुफ्ती ए आजम हजरत मौलाना मोहम्मद हामिद अहमद सिद्दीकी ने पैगामे ईद में कहा कि ईदुज्जुहा सुन्नते इब्राहीमी है। दुनियाभर के मुसलमान ईदुज्जुहा पर जानवरों की कुर्बानी पेशकर अपनी बंदगी का सबूत पेश करते हैं। मौलाना साहब ने मुल्क में खुशहाली व कौमी एकता कायम रहने का आह्वान किया। मौलाना साहब ने देश और दुनिया को कोरोना महामारी से जल्द निजात मिलने की दुआ दी। मौलाना साहब ने ईद पर की गई समुचित व्यवस्थाओं हेतु जिला एवं पुलिस प्रशासन तथा शहर में साम्प्रदायिक सद्भाव कायम रखने हेतु सभी का शुक्रिया अदा किया।

मोबाइल से ईद मुबारकः

कोरोना महामारी केकारण जारी लॉकडाउन से ईद पर लोगों को आमने-सामने मिलना सीमित रहा। लेकिन मोबाइल सहित सोशल मीडिया पर दिनभर ईद मुबारक के आदान-प्रदान का सिलसिला चलता रहा।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस