जबलपुर। नईदुनिया प्रतिनिधि

ओबीसी आरक्षण के मामले में प्रदेश कांग्रेस और मुख्यमंत्री के बीच ठन गई है। प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने पूर्व की कांग्रेस सरकार पर आरोप लगाया कि ओबीसी आरक्षण के मामले में कांग्रेस ने लापरवाही व उदासीनता बरती। जिसके बाद कांग्रेस ने भी मुख्यमंत्री व भाजपा पर आरोप लगाया है। कांग्रेस के प्रदेश प्रवक्ता टीकाराम कोष्टा ने कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री ओबीसी वर्ग का होने का दावा करते रहे किंतु भाजपा ने कभी ये प्रयास नहीं किए। जब कमल नाथ की सरकार ने 14 प्रतिशत को 27 प्रतिशत आरक्षण देने का अधिनियम पास किया तो अन्य पार्टी से जुड़े ओबीसी के विरोधियों ने बड़ी चालाकी से उस पर रोक लगाने के लिए न्यायालय में आपत्ति लगा कर स्टे लेने का कार्य किया।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस