जबलपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। सरकारी स्कूलों की शैक्षणिक व्यवस्थाएं सुधारने के लाख दावे किए गए परंतु स्थिति उसके विपरीत है। जिले के 16 स्कूलों में अगस्त से नवीन व्यावसायिक ट्रेड शुरू हो चुके हैं परंतु इन ट्रेडों को पढ़ाने के लिए विभाग ने शिक्षक नियुक्त नहीं किए हैं। अब अक्टूबर में स्कूल शिक्षा विभाग ने अतिथि शिक्षक नियुक्त करने की योजना तैयार की है। जिला शिक्षा अधिकारियों से कहा गया है कि वह 23 अक्टूबर तक व्यावसायिक ट्रेड पढ़ाने की योग्यता रखने वाले व्यक्तियों के आवेदन प्राप्त करें और 1 नवंबर से चयनित अतिथि शिक्षक को नियुक्ति दी जाए।

व्यावसायीकरण की योजना शैक्षिक अवसरों की विविधता प्रदान करती है। इसी के तहत 9वीं से लेकर 12वीं तक उच्चतर माध्यमिक विद्यालयों में इसे शुरू किया गया है। गौरतलब है कि प्रदेश के सरकारी स्कूलों में अभी 626 स्कूलों में व्यावसायिक शिक्षा पहले से चल रही है।

इसके बाद अब स्कूल शिक्षा विभाग ने नवीन व्यावसायिक शिक्षा को प्रदेश के 574 स्कूलों में शुरू किया है, जिसमें जबलपुर जिले के 16 स्कूलों को शामिल किया गया है। विद्यार्थी तीसरे विषय के रूप में व्यवसायिक विषय को चुन सकते हैं। कक्षा 9वीं से लेकर 12वीं तक के विद्यार्थी व्यावसायिक शिक्षा में प्रवेश ले सकते हैं।

एक माह के लिए रखे जाएंगे अतिथि शिक्षक

नवीन व्यावसायिक ट्रेड पढ़ाने के लिए अतिथि शिक्षकों की नियुक्ति सिर्फ दिसंबर माह तक के लिए की जा रही है। विभागीय अधिकारियों ने कहा कि दिसंबर तक अतिथि शिक्षकों को स्कूल में अस्थाई रूप से रखा जाएगा इसके लिए उन्हें किसी भी तरह का नियुक्ति पत्र नहीं दिया जाएगा।

इन स्कूलों में ट्रेड शुरू पर शिक्षक नहीं

स्कूल ट्रेड

शासकीय स्कूल बरेला-प्लम्बर

रानी दुर्गावती स्कूल- आईटी

एमएलबी स्कूल- इलेक्ट्रानिक हार्डवेयर

अधारताल- एग्रीकल्चर

बघराजी-ऑपरेटर होम फरसिंग

पड़रिया-प्लम्बर

रानीताल स्कूल-एग्रीकल्चर

पौड़ा हाईस्कूल- इलेक्ट्रानिक हार्डवेयर

सिंगौद हाईस्कूल-एग्रीकल्चर

कुशनेर-एग्रीकल्चर

कटंगी स्कूल-प्लम्बर

हाईस्कूल बेलखेड़ा-ब्यूटी

कटंगी कन्या स्कूल-रिटेल

कटंगी बालक स्कूल-प्लम्बर

गांधीग्राम स्कूल- इलेक्ट्रानिक हार्डवेयर

स्कूलों में नवीन व्यावसायिक ट्रेड के लिए अतिथि शिक्षकों की नियुक्ति के आदेश प्राप्त हुए हैं। 1 नवबंर के पहले अतिथि शिक्षकों की नियुक्ति कर दी जाएगी। अजय कुमार दुबे, एडीपीसी जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय

Posted By: Nai Dunia News Network