जबलपुर, नईदुनिया रिपोर्टर। कलाकार की जिम्मेदारी सिर्फ अपनी कला के माध्यम से लोगाें का मनोरंजन करना ही नहीं बल्कि कला का उपयोग करके समाज को जागरूक करना भी होता है। कुछ ऐसी ही जिम्मेदारी को शहर रंगकर्मियों व लोकगायक कलाकारों ने मिलकर बखूबी निभाया। लोकराग समिति के 18 वर्ष से लेकर 45 साल की उम्र तक के कलाकारों ने मार्च से लेकर अभी तक हर दिन जागरूकता अभियान में हिस्सा लिया। जिला प्रशासन के निर्देशानुसार ये कलाकार कोरोना वॉलेंटियर बन समाज के प्रति अपनी जिम्मेदारी निभाते रहे।

समिति के सदस्य संजय पांडे ने बताया कि शहर का कोई भी ऐसा गली मोहल्ला नहीं बचा जहां हम लोगों ने बारी-बारी से जाकर जनगीतों के जरिए, लोगों से बात करके, समझा कर जागरूकता का कार्य न किया हो। कोरोना का पीक समय होने पर भी लोग बिना मास्क के लिए घर से निकलते मिलते थे। उन्हें रोक कर समझाते थे कि मास्क लगाएं। जैसे घर से निकलते समय अपना पर्स रखना नहीं भूलते ठीक उसी तरह मास्क लेकर निकलना भी न भूलें। सिर्फ यही नहीं लोकराग समिति के कलाकारों ने लोगों को वैक्सीनेशन के लिए भी समझाइश दी। सदस्य अहमद वाहिद हुसैन, घनश्याम चौधरी ने बताया कि सबसे पहले हम लोगों ने अपने परिवार के सदस्यों को भी जागरूक किया।

साथ ही खुद की सुरक्षा का ध्यान रखते हुए मास्क और सेनेटाइजर का नियमित उपयोग किया। अन्य सदस्य अयोध्या पांडे, अरुण राजपूत, अजय सिंह ठाकुर के अनुसार वैक्सीन के लिए लोगों को समझाना कठिन रहा। क्योंकि लोगों के मन में तरह-तरह की भ्रांतियां थीं। कीर्ति राज, आरती चौधरी, आयुषी साहू, आयुषी ताम्रकार, रोहित, अरविंद, सुबेेंदु मन्ना सहित समिति के 15 सदस्यों ने लगातार जनता के बीच जाकर जागरूकता का कार्य किया।

Posted By: Ravindra Suhane

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

NaiDunia Local
NaiDunia Local
 
Show More Tags