जबलपुर। नईदुनिया प्रतिनिधि

सरकारी महकमे के बीच राजस्व वसूलने का लेनदेन होता रहता है लेकिन कई बार वसूली के लिए सख्ती करनी पड़ती है। नगर निगम और बिजली विभाग के बीच कुछ ऐसा ही हुआ। निगम ने टैक्स जमा करने के लिए दबाव बनाया तो बिजली विभाग ने भी बिल की राशि को लेकर सख्ती दिखाई। निगम के दफ्तरों का कनेक्शन काटा तो बकाया बिल भरना शुरू हो गया। बुधवार को लेमागार्डन की बिजली कटी तो निगम ने सवा करोड़ का बिल जमा करवा दिया।

जानकारी के अनुसार लेमा गार्डन में 250 परिवार आवासों में रह रहे हैं। यहां का करीब 26 लाख से ज्यादा बिजली बिल बकाया था। गोहलपुर क्षेत्र के इस परिसर में 30 किलोवाट का अस्थाई कनेक्शन लिया गया है। कई बार विभाग ने बिल भरने के लिए कहा लेकिन कोई सुनवाई नहीं हो रही थी। बताया जाता है कि बिजली विभाग ने 15 दिन का नोटिस दिया हुआ था। कनेक्शन कटने के चंद घंटे बाद नगर निगम हरकत में आया और फौरन लेमा गार्डन के अलावा अन्य परिसरों का करीब सवा करोड़ रुपये बिल अदा किया।

इससे पहले बिजली विभाग ने नगर निगम के गढ़ा जोन की बिजली भी काटी थी। यहां भी विभाग का बिल भुगतान लंबित था। कनेक्शन काटने के कुछ देर बाद ही बिजली विभाग को राशि मिल गई। इधर नगर निगम ने भी संपत्ति कर वसूलने के लिए पॉवर मैनेजमेंट कंपनी पर दबाव बनाया था। जिसके बाद करीब ढाई करोड़ रुपये की राशि पीएमसी ने जमा करवाई थी।

...

जुड़ गई बिजली

लेमा गार्डन की बिजली काटी गई थी लेकिन बिल जमा होने की वजह से कुछ ही घंटों के बाद वापस कनेक्शन जोड़ दिया गया है।

-आईके त्रिपाठी, अधीक्षण यंत्री शहर

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020