जबलपुर(जबलपुर न्यूज) : मरीजों को दी जाने वाली स्वास्थ्य सेवाओं की जांच करने के लिए कायाकल्प अभियान से जुड़ी टीम ने सोमवार को विक्टोरिया अस्पताल का दौरा किया। दो सदस्यीय टीम ने करीब 5 घंटे तक विक्टोरिया अस्पताल का कोना-कोना देखा और सामने आई कुछ कमियों को दुरुस्त करने के निर्देश दिए। टीम में सतना जिला अस्पताल के आरएमओ डॉ. अभिषेक चौरसिया तथा स्टेट ऑफीसर कायाकल्प श्वेता सिंह शामिल रहीं। अस्पताल के निरीक्षक के पश्चात टीम के सदस्यों ने सीएमएचओ डॉ. मनीष मिश्रा, सिविल सर्जन डॉ. आरके चौधरी, आरएमओ डॉ. संजय जैन, एल्गिन अस्पताल के आरएमओ डॉ. संजय मिश्रा, जिला क्षय अधिकारी डॉ. धीरज दवंडे, डॉ. अमिता जैन, डॉ. सीबी अरोरा के साथ बैठक की।

600 नंबर की चैकलिस्ट, 98 प्रतिशत अंक का दावाः कायाकल्प अभियान के अंतर्गत भारत सरकार द्वारा 600 नंबर की चैकलिस्ट जारी की गई है। चैकलिस्ट में 300 बिंदु हैं जिसमें प्रत्येक के लिए 2 अंक निर्धारित हैं। विक्टोरिया अस्पताल प्रशासन ने स्वास्थ्य सेवाओं को बेहतर बताते हुए 98 प्रतिशत अंक का दावा किया है। आरएमओ डॉ. जैन ने बताया कि टीम के सदस्यों ने दिव्यांगों की सुविधा के लिए रैम्प बनाने, रसोई समेत कुछ वार्डों में सीपेज की समस्या दूर करने व विद्युत व्यवस्था में सुधार के निर्देश दिए हैं।

एक सप्ताह से चल रही थी तैयारीः कायाकल्प अवार्ड के लिए टीम के विक्टोरिया पहुंचने की पूर्व सूचना दी जा चुकी थी। इसके बाद अस्पताल में करीब एक सप्ताह से युद्घ स्तर पर तैयारियां की जा रही थीं। अस्पताल के वार्डों, ओपीडी व परिसर की सफाई के साथ क्षतिग्रस्त उपकरणों को सुधारा गया तथा रिकॉर्ड दुरुस्त किए गए।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local