जबलपुर, नईदुनिया रिपोर्टर। रोटरी क्लब जबलपुर साउथ द्वारा वैश्विक महामारी कोविड-19 के प्रकोप से जबलपुर एवं आसपास की जनता को बचाने प्रोजेक्ट संजीवन के अंतर्गत ऑटोमेटिक आरएनए एक्सट्रैक्शन मशीन एवं 4000 टेस्टिंग किट्स प्रशासन को प्रदान की जा रही हैं। प्रोजेक्ट संजीवन के संयोजक पूर्व अध्यक्ष अखिल मिश्र ने बताया की 35 लाख की लागत की यह अत्याधुनिक ऑटोमेटिक मशीन 23 मिनट में 96 सैंपल का परिणाम देती है तथा बहुउपयोगी यह मशीन कोविड के साथ अन्य किसी भी वायरस से आरएनए को प्रथक करती है, जिसके कारण आने वाले वर्षों के लिए भी यह मशीन अत्यंत ही कारगर सिद्ध होगी।

इस अत्याधुनिक मशीन से अभी जो टेस्ट 4:30 से 5 घंटे में मैनुअली किया जा रहा है वह समाप्त हो जाएगा तथा मात्र एक से डेढ़ घंटा ही लगेगा तथा परिणाम भी लगभग 100% सही होंगे। मशीन के पूरी तरह ऑटोमेटिक होने से टेस्टिंग की क्षमता अत्याधिक बढ़ जावेगी। अखिल मिश्र ने बताया कि रोटरी साउथ के इस प्रकल्प से नगर में अधिक से अधिक कोविड-19 के टेस्ट किए जा सकेंगे तथा रिपोर्ट आने में हो रही देरी भी समाप्त हो जावेगी। आरटीपीसीआर कोविड टेस्ट में सर्वाधिक समय आरएनए एक्सट्रैक्शन की प्रक्रिया में ही लगता है तथा यह मैनुअल होने के कारण कई बार लैब साइंटिस्ट पॉजिटिव या नेगेटिव के परिणाम के संशय में फंस जाता है , लेकिन इस अत्याधुनिक मशीन के उपयोग से पूरी प्रक्रिया में विश्वसनीयता के साथ साथ समय की बचत भी होगी। विश्व में सर्वाधिक विश्वसनीय परिणाम देने वाली यह मशीन एवं रुपये 450000 लागत की 4000 टेस्टिंग किट एवं सामग्री शहर पहुंची।

विदित है कि रोटरी क्लब जबलपुर साउथ द्वारा कोरोना काल में मास्क, सैनिटाइजर, पीपीई किट, कच्चा राशन, पके हुए खाने के पैकेट बांटने के अलावा अनेकों सेवा के कार्य किए गए थे। जबलपुर संस्कारधानी को अनेकों वर्षों तक लाभान्वित करने वाली यह अत्याधुनिक मशीन के संकल्प के प्रेरणा स्त्रोत निर्वाचित प्रांतपाल सुनील फाटक, डॉ जितेंद्र जामदार रहे। इस मशीन के आयात में डॉ संजीव चौधरी, दिनेश कालवे, अनुराग गढ़वाल, आर एस चौहान, धर्मेंद्र प्रताप सिंह के साथ नगर के अनेक नॉन रोटेरियन लोगो ने भी सहयोग किया । रोटरी साउथ के सदस्यों ने इसे नगर के लिए सौगात बताते हुए कोविड-19 से लड़ाई में मील का पत्थर बताया।

मशीन को अतिशीघ्र प्रशासन को सौंपने की वैधानिक प्रक्रिया पूर्ण कर शीघ्र ही लैब में स्थापित करके इसका लाभ लिया जाएगा। प्रोजेक्ट संयोजक अखिल मिश्र ने 35 लाख की दानराशि में सहयोग देने वाले प्रत्येक दानदाता बंधुओं को धन्यवाद दिया तथा रोटरी इंटरनेशनल से ग्लोबल ग्रांट दिलाने पूर्व प्रांतपाल रंजीत सिंह सैनी एवं निर्वाचित प्रांतपाल शशांक रस्तोगी का आभार व्यक्त किया। मशीन जबलपुर पहुंचने पर राज्यसभा सांसद एवं पूर्व रोटरी प्रांतपाल विवेक तनखा, क्लब अध्यक्ष सारंग भिड़े, सचिव रवि वैश्य, कोषाध्यक्ष संतोष जैन, पूर्व अध्यक्ष अरुण कांत अग्रवाल, एसके गुप्ता, अमरेंद्र नारायण सहित नगर के समस्त रोटेरियन बंधुओं ने हर्ष व्यक्त करते हुए रोटरी के मूल वाक्य स्वयं से परे सेवा को सदैव ही चरितार्थ करने का वादा दोहराया।

Posted By: Ravindra Suhane

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags