जबलपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। एक माह की छुट्टी लेकर अपना इलाज करा रहे नगर निगम के सहायक राजस्व निरीक्षक का मर्ज उस वक्त बढ़ गया जब उसे पता चला कि उसे शासकीय कार्यों में लापरवाह करार देते हुए निलंबित कर दिया गया है।

आवेदन देकर एक माह की छुट्टी स्वीकृत कराई थी : बीमार होने पर सहायक राजस्व निरीक्षक ने बकायदा आवेदन लगाकर एक माह की छुट्टी स्वीकृत कराई थी। नगर निगम में हुई इस निलंबन की कार्रवाई पर कर्मचारियों ने सवाल उठाए हैं।

22 मार्च से छुट्टी पर निरीक्षक: नगर निगम के सहायक राजस्व निरीक्षक चंद्रेश कोल की माने तो वर्तमान में प्रधानमंत्री योजना विभाग में पदस्थ हैं। बीमारी के चलते उन्होंने चिकित्सीय प्रमाण देते हुए 22 मार्च 2021 से 22 अपै्रल 2021 तक का अवकाश लिया है। अब सवाल यह उठता है कि अवकाश का आवेदन दिया गया तो फिर निलंबन की कार्रर्वा कैसे कर दी गई।

7 अप्रैल को निगमायुक्त ने निलंबन का आदेश जारी कर दिया : अवकाश लेने के बावजूद इसके गुरुवार 7 अप्रैल 2021 को निगमायुक्त द्वारा जारी आदेश में निलंबित कर दिया गया। निलंबन का कारण समय-समय पर सौंपे गए कार्यों को समय पर पूरा न करने पाने का कारण दर्शाया गया है।

बहाली की गुहार: कोरोनाकाल में बीमारी के चलते लिए अवकाश के बावजूद निलंबित किए जाने से सहायक राजस्व निरीक्षक की मुसीबत और बढ़ गई है। उन्होंने निगमायुक्त को पत्र प्रेषित कर निलंबित समाप्त कर बहाल करने की मांग की है। पत्र में यह भी कहा गया है कि इसके पहले जो भी कार्य उन्हें सौंपे गए उसका समय पर निराकरण किया गया है।

Posted By: Brajesh Shukla

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags