जबलपुर, नईदुनिया रिपोर्टर। शादी को पूरे रीति-रिवाजों के साथ धूमधाम से करना और दूर-दूर के रिश्तेदारों को भी न्योता देने का सिलसिला मानो थम सा गया है। इसके साथ ही अब रिश्तेदारों के रूठने और मनाने की परंपरा भी अब समाप्त होती नजर आ रही है। कोरोना के कारण शादी करने का पूरा अंदाज ही बदल गया है और यह अंदाज भले ही घर के बड़े बुजुर्गों को पसंद न आए, लेकिन युवाओं को बेहद पसंद आ रहा है। शादी को पूरे रीति-रिवाजों के साथ धूमधाम से की जा रही है, लेकिन बस भीड़ न होने से इसका मजा और भी बढ़ गया है। कोरोना की वजह से आया माइक्रो वेडिंग ट्रेंड युवाओं के बीच काफी लोकप्रिय होता जा रहा है।

माइक्रो वेडिंग ट्रेंड : इस तरह की शादियों में दूल्हे और दुल्हन के अलावा उनके परिवार के बेहद करीबी और अतिथि शामिल होते हैं। इस शादी में कम से कम लोगों को बुलाया जाता है। शादी में शामिल होने वाले लोगों की संख्या अधिकतम 50-100 और कम से कम 20-25 हो सकती है। बावजूद इसके इस तरह की शादी भी बेहद शानदार तरीके से की जाती है।

कोरोना में हो रही शादियों के हैं अपने फायदे : भारतीय संस्कृति में तमाम रीति रिवाजों के साथ अच्छे से शादी करने में लोग काफी पैसे खर्च करते थे। शादी में जितनी भीड़ होती है वो शादी उतनी ही भव्य मानी जाती है। मगर कोरोना के दौरान माइक्रो वेडिंग ट्रेंड आते ही इस तरह की शादी का चलन कम हो गया है। अब लोग कम से कम भीड़ में शादी करना पसंद कर रहे हैं।

रूठने-मनाने का चलन भी हुआ खत्म : ग्रैंड शादियों में गेस्ट की संख्या भी ज्यादा होती है। ऐसे में अगर किसी रिश्तेदार की खातिरदारी में कोई कमी रह जाए तो वो आपसे रूठ जाते थे, लेकिन माइक्रो वेडिंग के कारण कम से कम अतिथि को बुलाया जा रहा है। इस कारण लोगों के रूठने मनाने के चलन में भी कमी हुई है।

बिना कर्ज की शादी : दिखावे के चक्कर में लोग शादी पर इतना खर्च कर देते हैं कि उन पर अच्छा खासा कर्ज चढ़ जाता है। मगर माइक्रो वेडिंग में लोग अपनी शादी एकदम बजट फ्रेंडली तरीके से कर सकते हैं।

सजावट पर नहीं करनी होगी कटौती : माइक्रो वेटिंग में लोग कम होते हैं तो किसी छोटे स्पेस पर इसे किया जा सकता है। इसमें कम खर्च में पूरी वेडिंग डेस्टिनेशन की सजावट की जा सकती है। आम तौर पर होने वाली शादियों में स्पेस बड़ा होता है जहां पर अलग-अलग जगहों पर सजावट कर खर्च बढ़ जाता है।

Posted By: Brajesh Shukla

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

NaiDunia Local
NaiDunia Local
 
Show More Tags